समस्तीपुर।एकओरजहांसरकाररोजगारोन्मुखशिक्षापरजोरदेरहीहैऔरसस्तीतथाउत्कृष्टशिक्षामुहैयाकरानेकेसंकल्पकेसाथकार्यकरनेकादावाकरतीहैवहींपटोरीमेंउच्चशिक्षाकेनामपरप्रतिवर्षहजारोंनौजवानछलेजारहेहैं।अनुमंडलमुख्यालयमेंललितनारायणमिथिलाविश्वविद्यालयकीअंगीभूतइकाईएएनडीकॉलेजइसकासबसेबड़ाउदाहरणसाबितहोरहाहै।लगभग10हजारछात्र-छात्राओंपर12शिक्षकनियुक्तहैं।कईविभागमेंवर्षोंसेतालेलटकरहाहै।फिरभीअंतरस्नातकतथास्नातककेविभिन्नविषयोंमें95फीसदसेअधिकपरीक्षाफल,यहएकजादूकीकहानीकेजैसाहीप्रतीतहोरहाहै।विज्ञानविषयमेंसिर्फवनस्पतितथाभौतिकविज्ञानमेंहीएक-एकशिक्षकहैं।आखिरविज्ञानलेकरपढ़नेवालेछात्रकिसशिक्षकसेपढ़नेकेलिएमहाविद्यालयआएंगे।अन्यविषयोंकाभीयहीहालहै।महाविद्यालयमें50शिक्षकोंमें38पदरिक्तहैं।लेकरऑनर्सतकशिक्षाप्रदानकरनेवालीइससंस्थामेंशिक्षकोंकेअधिकांशपदरिक्तहैं।यहांसभीछात्रोंकेलिएहिदीविषयअनिवार्यहै।आश्चर्ययहहैकिकॉलेजमेंहिदीकेएकभीशिक्षकनहींहै।जंतुविज्ञान,गणित,मनोविज्ञान,रसायनविज्ञान,राजनीतिशास्त्र,इतिहाससंस्कृतकेभीशिक्षकनहीरहनेकेकारणइसविषयकेछात्रोंकोपरेशानियोंकासामनाकरनापड़रहाहै।शिक्षकोंकीकमीकेकारणछात्रोंकोजरूरतकेमुताबिकप्राइवेटट्यूशनपरनिर्भररहनापड़रहाहै।दोदशकपूर्वतककॉलेजमेंपर्याप्तशिक्षकथेजिससेदूसरेजिलोंकेभीछात्रआकरयहांशिक्षाग्रहणकरतेथे।परंतुशिक्षकोंकेस्थानांतरणएवंसेवानिवृत्तिकेकारणस्थितिबदतरहोतीगई।महाविद्यालयकेपुस्तकालयमेंपर्याप्तपुस्तकभीनहींहैं।यहांप्रयोगशालाभीनहींखुलता।क्याकहतेहैंशिक्षक

शिक्षकोंकीकमीकेसंबंधमेंकईबारविश्वविद्यालयकोलिखागयापरंतुस्वीकृतबलकेअनुरूपशिक्षकोंकीप्रतिनियुक्तिनहीहोपाई।इससेअध्यापनकार्यमेंबाधाउत्पन्नहोरहीहै।

डॉ.वीरेंद्रकुमारचौधरी,

प्रधानाचार्य,एएनडीकालेज,शाहपुरपटोरी-----------

महाविद्यालयमेंसभीविषयोंकेशिक्षकोंकेनहींरहनेसेपरेशानियोंकासामनाकरनापड़ताहैबावजूदइसकेसभीशिक्षकशैक्षणिकमाहौलबनानेकेलिएसमर्पितरहतेहैं।

प्रो.आफताबआलम,शिक्षक

मौजूदसाधनमेंछात्रोंकोआवश्यकसुविधादेनेकाप्रयासमहाविद्यालयप्रशासनकेद्वाराकियाजारहाहै।

डॉ.आरएनतिवारी,शिक्षकविषयवारशिक्षकोंकीसूचीविषयस्वीकृतपदकार्यरत

राजनीतिविज्ञान40

रसायनविज्ञान30

वनस्पतिविज्ञान21

प्राचीनइतिहास10

By Duncan