तपस्वीशर्मा,झज्जर:बदहालव्यवस्थाकानजारादेखनाहैतोआपआईएग्वालिसनस्थितराजकीयवरिष्ठमाध्यमिकविद्यालय।जहांवृक्षोंकीछांवसेमिलनेवालीठंडीहवाऔर14डिग्रीकेतापमानमेंस्कूलीबच्चेंजमीनपरटाटबिछाकरअपनेभविष्यकोसंवारनेकाप्रयासकररहेहैं।कक्षाछठीसेबारहवींकक्षातकके120विद्यार्थियोंकीदिनचर्याप्रतिदिनऐसीहीरहतीहै।जैसे-जैसेसर्दीबढ़रहीहै,वैसे-वैसेविद्यार्थियोंकीपरेशानियांभीबढ़नेलगीहै।विद्यार्थियोंकोस्कूलमेंआनेसेभीडरलगनेलगताहै।विद्यार्थियोंकाकहनाहैकिबारिशकेदौरानतोकिसीतरहएकहीकमरेऔरबरामदेमेंबैठकरपढ़ाईकरलीथी,लेकिनसर्दीमेंकैसेपढ़ाईकरेंगे,इसबातकी¨चताहोरहीहै।इतनीहीठंडमेंपढ़नामुश्किलहोरखाहैतोदिसंबरऔरजनवरीमेंक्याहालातहोगी?पूरेविद्यालयमेंसिर्फएकहीकमराऐसाहै,जिसमेंबारहवींकक्षाकीपढ़ाईहोरहीहै।उन्हेंभीजबदसवींयाफिरअन्यकक्षाओंकीगणितकेपीरियडहोताहै।बाहरजमीनपरबैठनापड़ताहै।क्यूंकिस्कूलमेंस्टे¨डगवाईटयाब्लैकबोर्डकीव्यवस्थातकचारमाहमेंनहींहोपाईहै।ऐसीविपरीतपरिस्थितियोंमेंअध्यापकभीउपलब्धसंसाधनोंमेंकिसीतरहसेकामचलारहेहैं।---चारमाहपूर्वमानसूनकेदौरानगिरीथीस्कूलकीछतजुलाईमाहमेंमानसूनकेदौरानस्कूलकीछतगिरगईथी।गनीमतयहरहीथीकिउसदौरानकोईहादसानहींहुआथा।इसदौरानविभागीयअधिकारियोंकीटीमनेमौकेकामुआयनाकियाथाऔरबादमेंपीडब्ल्यूडीविभागद्वारास्कूलकेअधिकांशभवनकोकंडमघोषितकरदियाथा।विभागीयअधिकारियोंद्वाराजल्दस्कूलकानिर्माणकार्यशुरूकरवानेकीबातकहीथी।लेकिनचारमाहबीतजानेकेबादभीस्थितिज्योंकीत्योंबनीहुईहै।---विद्यार्थियोंकीतकनीकीशिक्षाभीहोरहीहैबाधितस्कूलकीकंप्यूटरलैबभीजर्जरकमरेमेंहीबनाहुआहै।जिसपरतालालगाकरबंदकरदियागयाहै।जिसकेचलतेविद्यार्थियोंकोतकनीकीशिक्षाभीनहींमिलपारहीहै।इसकेअलावास्कूलकाअन्यरिकार्डभीइनजर्जरकमरोंमेंबंदपड़ाहुआहै।अध्यापकोंकायहकहनाहैकिअगररिकार्डकोवहांसेनिकालतेहैतोकहांरखेंगेयहभीपरेशानीहै।इसकेअलावाअपरे¨टसकेलिएआएहुईआईटीआईकीएकछात्राकीअपरे¨टसभीनहींहोपारहीहै।---स्कूलमेंरहताहैदिनभरअव्यवस्थाकामाहौल

स्कूलमेंप्राचार्यकक्षकेअलावासिर्फएकहीकमराहै।जिसमेंबारहवींकेविद्यार्थियोंकीकक्षालगतीहै।लेकिनजबआठवीं,दसवींसहितअन्यकक्षाओंकीगणितयाफिरसाईसकापीरियडहोताहैतोयहबारहवींकेकक्षाकेविद्यार्थियोंकोभीबाहरबैठनापड़ताहै।जिसकेचलतेदिनभरविद्यार्थियोंकोकभीअंदरऔरकभीबाहरबैठनापड़ताहै।जिसकेचलतेबारहवींकक्षाकेविद्यार्थियोंकीपढ़ाईज्यादाबाधितहोतीहै।वैसेतोसभीविद्यार्थियोंकीपढ़ाईबाधितहोरहीहै।लेकिनछठीसेबारहवींकक्षाकेतकविद्यार्थियोंज्यादाचि¨ततहै।मानसूनकेदौरानभीछठीसेआठवींकक्षाकेविद्यार्थियोंकोछुट्यिांकरदीगईथी।जिसकेचलतेअध्यापकोंकोभीउनकासिलेबसपूराकरवानेकेलिएअतिरिक्तमेहनतकीजारहीहै-----प्रारंभिकतौरपरजबयहघटनाक्रमसामनेआयाथातोउसदौरानपंचायतीस्तरपरजिक्रहुआथाकिकक्षाओंकोकम्यूनिटीसेंटरआदिमेंशिफ्टकरतेकुछरास्तानिकाललियाजाएगा।ताकिपढ़ाईभीबाधितनहींहोऔरस्कूलभीचलतारहे।लेकिनचारमाहबीतजानेकेबादभीस्थायीतौरपरऐसाकोईठोससमाधाननहींहोपायाहै।जिससेइनबच्चोंकेप्रतिव्यवस्थाकीगंभीरतादिखाईदेतीहो।हालांकि,संबंधितलोगोंसेजबबातकीगईतोउनकायहकहनाथाकिहरसंभवप्रयासकियाजारहाहै।लेकिनहोरहेप्रयासधरातलपरदिखाईनहींदेरहे।

--व्यवस्थाबनानेकाप्रयासकररहेहै,लेकिनस्थितिकाबूमेंनहींआपाईहै।अभीविद्यार्थियोंकोबाहरबैठाकरपढ़ाईकरवाईजारहीहै।लेकिनजैसेसर्दीबढ़ेगीउसदौरानसुबहएकघंटादेरीसेस्कूललगायाजाएगाऔरछुट्टीभीएकघंटेबादकीजाएगी।निर्माणकार्यशुरूहोनेमेंएकसेडेढ़वर्षकासमयलगजाताहै।स्कूलकेस्तरपरसभीकागजीकार्यवाहीपूरीकरकेउच्चाधिकारियोंकेसमक्षभेजदीगईहै।

---राजकुमार,प्राचार्यराजकीयवरिष्ठमाध्यमिकविद्यालयग्वालिसन।विभागकोएस्टीमेटबनाकरभेजाहुआहै।अनुमतिमिलतेहीनिर्माणकार्यशुरूकरवायाजाएगा।सर्दियोंकेमौसममेंविद्यार्थियोंकोपरेशानीनहींहो,इसकेलिएउच्चाधिकारियोंसेबातचीतकरकेशेडकीव्यवस्थाकरवाईजाएगी।प्रयासहैकिविद्यार्थियोंकोकोईपरेशानीनहींहो।--कश्मीरसुहाग,बीईओ,मातनहेलब्लॉक।

By Farmer