संवादसहयोगी,शाहपुरकंडी:जलस्त्रोतविभागनेविभिन्नविभागोंमेंकार्यरतविभिन्नकैटेगरीकेकर्मचारियोंको15प्रतिशतकोटेकेतहत10300-4800पेग्रेडपर16दिसंबर2019कोजूनियरइंजीनियरपदोन्नतकियाथा।उससमयसंबंधितविभागनेसभीनियमऔरशर्तेंतयकरतेहुएकहांथाकिअगरकिसीभीकर्मचारीकाडिप्लोमाइनइंजीनियरिगमान्यनहींपायाजाताहैतोविभागकीओरसेउन्हेंरिवर्टकरनेकापूराअधिकारहोगा।जलस्त्रोतविभागने18दिसंबर2020कोरणजीतसागरबांधपरियोजनाकेअलावापंजाबकेविभिन्नविभागोंमें35कर्मचारियोंकोपदोन्नतकरजूनियरइंजीनियरबनायाथा,मगरएकसालबीतजानेकेउपरांतविभागीयछानबीनमेंयहबातनिकलकरसामनेआईहैकिओएलडीमोडद्वाराडिप्लोमाइनइंजीनियरिगकोर्समान्यताप्राप्तनहींहै।इसबातकोआलइंडियाकाउंसिलफारटेक्निकलएजुकेशनन्यूदिल्लीने14फरवरी2020कोअपनेपत्रद्वारास्पष्टकरदियाथा।उक्तसभीतथ्योंकोमध्यनजररखतेहुएसरकारनेइनसभी35कर्मचारियोंकोरिवर्टकरनेकाफैसलाकरतेहुएविभिन्नविभागोंकोपत्रजारीकरदियाहै।इसकेचलतेइनकर्मचारियोंमेंभारीरोषपायाजारहाहै।उन्होंनेकहाकिइसफैसलेकोवापसलेनाचाहिए।इससंबंधमेंजबरणजीतसागरबांधपरियोजनाकेमुख्यअभियंताएसकेसलूजासेबातकीगईतोउन्होंनेकहाकिवहकिसीकेनुकसानकरनेकेहकमेंनहींहै,मगरसरकारकीओरसेउन्हेंइससंबंधमेंपत्रमिलाहैतथासरकारकेआदेशोंकापालनकियाजाएगा।

By Edwards