पटनाकेगांधीमैदानकुर्जीरोडपरगोसाईटोलामेंप्राथमिकविद्यालयकाभवनहै।इसछोटेसेदोमंजिलाभवनमेंकुल6कमरेहैं।भवनकाफीपुरानाहै।इसकारणसेकमरेभीहवादारनहींहै।दिनमेंहीअंधेराछायारहताहै।बच्चोंकोपढ़नेऔरलिखनेमेंकाफीदिक्कतहोतीहै।6कमरोंमेंसेएकमेंएकदूसरेविद्यालयकेप्राचार्यकाकब्जाहै।

प्राथमिकविद्यालयगोसाईटोलामेंएकस्कूलप्राथमिकविद्यालयगोसाईंटोलाकाचलताहै।इसमें1से5तककेछात्रोंकीपढ़ाईहोतीहै।यहभवनकामूलविद्यालयहै।150सेअधिकबच्चोंवालेस्कूलकीक्लाससुबह11.30बजेसेलगतीहै।दूसराविद्यालयराजकीयबुनियादीविद्यालयहै।इसमें1से8तककेबच्चोंकीपढ़ाईहोतीहै।190बच्चेरजिस्टर्डहैं।

यहां5कमरोंमें3सरकारीस्कूलचलरहेहैं।3शिफ्टमेंस्टूडेंट्सआतेहैं।क्लासभीफर्शपरचलतीहै।कार्यालयकारिकॉर्डतोगुरुजीझोलेमेंलेकरचलतेहैं।इतनाहीनहींशिफ्टकेहिसाबसेक्लासकेलिएअलग-अलगस्कूलोंकीचटाईबिछतीहै।कोरोनाकालमेंस्कूलोंकीयहव्यवस्थासिस्टमपरसवालखड़ाकरनेवालीहै।

ऐसेसंवरेगाबच्चोंकाभविष्य?

संबंधितविद्यालयकेटीचरकेलिएबैठनेतककीपूरीव्यवस्थानहींहै।एकस्कूलकाकार्यालयबच्चोंकीक्लासमेंहीचलताहै,जबकिएककेपासकोईकार्यालयनहींहै।16अगस्तसेस्कूलखुलाहै,इसकारणसेअभीबच्चोंकीउपस्थितिकमहै।संख्याबढ़तेहीसमस्याशुरूहोजाएगी।

सुबहसाढ़े6से11.30बजेइसलिएपढ़ाईपूरीकरलीजातीहै।क्योंकि,फिरदूसरेस्कूलकासमयहोजाताहै।राजकीयबुनियादीविद्यालयकामूलविद्यालयबिहारविद्यापीठकेपासहै।भवनजर्जरहोनेकेकारणपूरास्कूलशिफ्टकरदियागया।तीसरास्कूलप्राथमिकविद्यालयबिंदटोलीहै।इसमें1से5तककेबच्चोंकीपढ़ाईहोतीहै।इसकासमयभीदिनमेंसाढ़े11बजेसेकियागयाहै।छात्रोंकीसंख्या150सेअधिकहै।लेकिनबाढ़केकारणअभीज्यादाबच्चेनहींआरहेहैं।बच्चोंकेआतेहीमशक्कतबढ़जाएगी।

मिडडेमीलकेलिएएकभीकिचननहीं

MDMयानीमिडडेमीलकीएककिचननहींहै,जहांतीनोंविद्यालयोंकेबच्चोंकाखानाबनायाजासके।तीनोंस्कूलोंकाMDMबनवानाऔरराशनकेसाथअन्यसामानरखनाभीकाफीमुश्किलहै।राजकीयप्राथमिकविद्यालयमेंतोप्राचार्यकेकमरेमेंहीMDMकातड़कालगताहै।टीचरबतातेहैंकिजबखानाबनताहैतोकार्यालयछोड़नापड़ताहै।

गैसऔरचूल्हेकीगर्मीकेकारणकार्यालयमेंप्रिंसिपलऔरटीचरकाबैठनामुश्किलहोजाताहै।बाकीदोस्कूलोंकेलिएतोकाफीमुश्किलहै।वहकहांMDMकाचूल्हाजलाएंनिश्चितनहींहोपाताहै।हालांकि,कोरोनाकालमेंसंक्रमणकेकारणMDMबंदहै।सितंबरसेहालातसहीरहेतोबिहारकेसभीस्कूलोंमेंइसेचालूकियाजासकताहै।

आपसमेंमैनेजनकरेंतोहोजाएसमस्या

तीनोंस्कूलोंकेटीचरकाकहनाहैकिवहआपसमेंमैनेजनकरेंतोसमस्याहोजातीहै।राजकीयबुनियादीविद्यालयकीप्रभारीप्रधानाचार्यरेखाकुमारीकाकहनाहैकिसबकीटाइमिंगसेटहै।आपसमेंभीहमलोगोंकामैनेजमेंटकाफीसेटहोताहै।सामंजस्यथोड़ासाभीबिगड़नेनहींदेतेहैंजिससेकभीसमस्यानहींहोतीहै।

स्कूलोंकीटाइमिंगकेसाथसबव्यवस्थारखतेहैं।जिलाशिक्षापदाधिकारीDEOअमितकुमारकाकहनाहैकिवहभवनहीनविद्यालयोंकीसूचीतैयारकरारहेहैं।इसदिशामेंकामकियाजाएगा।