नईदिल्ली:दिल्लीमेट्रोभारतमेंलोगोंकेशहरीपरिवहनकेक्षेत्रमेंएकनएयुगमेंप्रवेशकीदृष्टिसेकाफीमहत्वपूर्णरहीहै.दिल्लीमेट्रोनेभारतमेंपहलीबारआरामदेह,वातानुकूलितऔरपर्यावरणकेअनुकूलसेवाएंलोगोंकोमुहैयाकराईहै.यहसुविधानकेवलराजधानीदिल्लीकेक्षेत्रमेंबल्किदिल्लीकीसीमासेबाहरनिकलकरउत्तरप्रदेशमेंनोएडा,गाजियाबादऔरहरियाणामेंगुड़गांवएवंफरीदाबादतकपहुंचचुकीहै. दिल्लीमेट्रोमेंप्रतिदिनतकरीबन27लाखसेज्यादालोगसफरकरतेहैं.

यहांपढ़ेंदिल्लीमेट्रोसेजुड़ेपांचबड़ेहादसे

रिकार्डसमयमें208किलोमीटरऔर150स्टेशनोंकेविशालनेटवर्ककेनिर्माणकेसाथ,डीएमआरसी(दिल्लीमेट्रोरेलकार्पोरेशन)आजएकज्वलन्तउदाहरणकेरूपमेंमौजूदहैकिकिसतरहएकविशालकायपरियोजनाएकसरकारीएजेन्सीद्वारासमयसेपहलेतथाबजटलागतकेभीतरपूरीकीजासकतीहै.

डीएमआरसीनेअपनापहलाकॉरीडोरदिल्लीकेशाहदराऔरतीसहजारीकेबीच25दिसम्बर,2002कोप्रारंभकियाथा.इसकेबाद65किलोमीटरलंबीमेट्रोलाइन्सकेनिर्माणकापहलाचरण2005मेंउसकेनिर्धारितसमयसेदोसालनौमहीनेपहलेपूराकरलियागयाथा.दूसरेचरणमेंडीएमआरसी125किलोमीटरकेअन्यमेट्रोकॉरीडोर्सकानिर्माणकेवलसाढ़ेचारसालमेंपूराकरचुकीहै.

वर्तमानमें,दिल्लीमेट्रोकानेटवर्कलगभग193किलोमीटरतकहरदिनचलताहै.जिसमें141स्टेशनोंकेसाथएयरपोर्टएक्सप्रेसलिंककेछहस्टेशनबनाएगएहैं.इंदिरागांधीइंटरनेशनलएयरपोर्टतथानईदिल्लीकेबीचएयरपोर्टएक्सप्रेसलिंककेसाथदिल्लीअबविश्वकेउनशहरोंमेंशामिलहोगईहै,जहांशहरऔरएयरपोर्टकोजोड़नेकेलिएहाईस्पीडरेलकनेक्टिविटीमौजूदहै.

डीएमआरसीकेपासआजचार,छहऔरआठकोचकी216ट्रेनकासेटहै.वर्तमानमेंछहकोचवाली100सेअधिकऔरआठकोचवाली60सेअधिकट्रेनेंचलाईजारहीहैं.

दिल्लीमेट्रोनेपर्यावरणकेमोर्चेपरभीमहत्वपूर्णयोगदानदियाहै.डीएमआरसीकोसंयुक्तराष्ट्र(यूएन)नेभीग्रीनहाउसगैसउत्सर्जनकमकरनेकेलिएकार्बनक्रेडिट्सप्राप्तकरनेवालीविश्वमेंपहलीमेट्रोरेलऔररेलआधारितप्रणालीकेरूपमेंप्रमाणितकियाहै.

दिल्लीवासियोंकोएकआरामदेहपरिवहनविकल्पउपलब्धकरानेकेसाथहीदिल्लीमेट्रोसड़कोंपरवाहनोंकीभीड़कमकरनेकीदिशामेंभीयोगदानदेरहीहै.केंद्रीयसड़कअनुसंधानसंस्थान(सीआरआरआई)द्वारावर्ष2011मेंकिएगएएकअध्ययनकेमुताबिकदिल्लीमेट्रोकेआनेसेदिल्लीकीगलियोंसे1.17लाखवाहनहटानेमेंसहायतामिलीहै.

दिल्लीमेट्रोरेलकार्पोरेशन(डीएमआरसी)कापंजीकरणदिनांक3मई,1995कोकंपनीअधिनियम,1956केअधीनराष्ट्रीयराजधानीक्षेत्रदिल्लीसरकार(जीएनसीटीडी)औरकेंद्रसरकारकीसमानइक्विटीभागीदारीकेसाथएकविश्वस्तरीयतीव्रगामीजनपरिवहनप्रणाली(एमआरटीएस)केनिर्माणऔरप्रचालनकेसपनेकोसाकारकरनेहेतुकियागयाथा.

(यहआंकड़ेदिल्लीमेट्रोरेलकार्पोरेशनसेलिएगएहैं)