सम्भल:डोलीचढ़केदुल्हनससु्रालचलीडोलीचढ़के..14नवंबर1969मेंरिलीजहुईबॉलीवुडफिल्मडोलीमेंगायककलाकारमहेंद्रकपूरकीआवाजमेंफिल्ममेंगयागीतआजभीलोगोंकेजहनमेंगूंजताहै।फैशनकेइसदौरमेंसम्भलमेंडोलीमेंदुल्हनविदाकरनेकाक्रेजआजभीबरकरारहै।

सम्भलकेसरायतरीनकेकईपरिवाररोजी-रोटीकेलिएडोलीकेकारोबारपरहीनिर्भरहैं।आजकेदौरमेंइंसानचांदपरपहुंचगया।अंतरिक्षकीसैरभीकरली।हरएककेहाथमेंमोबाइलहै।आधुनिकताकेइसदौरमेंजैसे-जैसेइंसानतरक्कीकररहाहै।वैसे-वैसेभारतीयसंस्कृतिभीविलुप्तहोतीजारहीहै।दशकोंपहलेदुल्हनडोलीमेंविदाहोतीथी।हालांकिउससमयमानवजातिकेपाससंसाधनोंकाअभावथा।सवारीकेलिएबैलगाड़ीऔरसाइकिलहीमात्रयातायातसाधनकेतौरपरथी।अबसमयबदलगयाहै।हरदूसरेघरमेंकारहै।दुल्हनकारसेविदाकीजातीहैं।इतनाहीनहींसमाजमेंअपनावर्चस्वकायमरखनेकेलिएरसूखदारलोगोंनेअपनीबेटियोंकोहैलीकॉप्टरसेविदाकियाहै।कुलमिलाकरडोलीकाक्रेजविलुप्तहोरहाहै।मगरसरायतरीनकेमोहम्मदअनीसअपनेपार्टनरमरगूबवसुल्तानकेसाथ26सालसेडोलीबनानेऔरबु¨कगपरडोलीलेजानेकाकामकररहेहैं।मोहम्मदअनीसपूर्वमेंपालिकासभासदभीरहचुकेहैं।इनदिनोंउनकाबेटामोहम्मदसनीडोलीकेकामपरउनकाहाथबांटताहै।इनकाकहनाहैकिसालोंसेउनकेपरिवारमेंयहीकामहोताआयाहै।सालमेंकरीब200सेअधिकबु¨कगमिलजातीहैं।

मुस्लिमसमाजमेंअधिकहैडोलीकाक्रेज

सम्भल:डोलीसंचालकमोहम्मदअनीसनेबतायाकिमुस्लिमधर्ममेंडोलीकाक्रेजज्यादाहै,जिससेमुस्लिमपरिवारोंसेबु¨कगअधिकआतीहैं।इसकेअलावाब्राह्मण,बारहसैनी,दलितसमाजमेंडोलीकीबु¨कगआतीहै।मंडलमुरादाबादकेजनपदअमरोहाकेहसनपुर,सम्भलकेबहजोईवचन्दौसी,मुरादाबादसमेतमंडलभरसेबु¨कगमिलतीहै।एकबु¨कगके2000रुपयेमिलतेहैं।इससमयउनकेपासचारलकड़ीकीडोलियांहैं।लोगोंकीडिमांडपरस्टीलकीभीडोलीबनाईगईहै।