बेतिया।एड्सएकगंभीरचुनौतीबनीहुईहैं।इसकाग्राफबढ़रहहै।विभागीयजानकारोंकीमानेतोकेवलअप्रैलमाहसेअक्टूबरतककरीब9167लोगोंकीजांचहुई।इसमें2328पुरुष,1997महिलाएंऔर4842गर्भवतीमहिलाएंशामिलहैं।कुल9167लोगोंमें135लोगोंमेंपाजिटिवपायागया।जबकिगवर्नमेंटमेडिकलकालेजसहअस्पतालस्थितएआरटीसेंटरकेअनुसारअप्रैल2020सेअबतककरीब1648मरीजचिन्हितकिएगएहै।जिनकाइलाजचलरहाहै।एचआईबीकेमरीजोंकीसंख्याकोलेकरआमलोगसहितस्वास्थ्यविभागकेअधिकारीभीसक्तेमेंहैं।नतीजतनबाहरसेआनेवालेएकएकमरीजोंकीजांचएवंआवश्यकपरामर्शदियाजारहाहैं।जिलेसेबाहरसेवापसलौटनेवालोंकीकाउंसलिगएवंजांचकीजातीहैं।हालांकिइसकेलिएयहांखासव्यवस्थातोनहींहैं।लेकिनपीटीसीटीऔरआईसीटीसीसेंटरकार्यरतहैं।एमजेकेगवर्नमेंटमेडिकलकॉलेजसहअस्पतालस्थितप्रसववार्डमेंकार्यरतइससेंटरकेमाध्यमसेगर्भवतीएवंआममरीजोंकीप्रारंभिकजांचकीजातीहैं।पॉजिटिवपाएजानेपरमरीजएआरटीसेंटरसेकाउंसिलिगवदवादियाजाताहै।

जागरूकतावबचावहीएड्सकाइलाज

एड्ससेबचावकेलिएमहिलासंगठनइनरव्हीलक्लबबेतिया,रोटरीक्लबबेतिया,लायंसक्लब,प्रगतिसंस्था,गवर्नमेंटमेडिकलकॉलेजसहितकईसंस्थाओंकीओरसेअभियानचलाकरआमलोगोंकोजागरूककियाजाताहैं।सभीकीओरसेनुक्कड़नाटकएवंअन्यमाध्यमोंसेलोगोंकोएचआइवीकीजानकारीदीजातीहैं।एड्सकैसे?क्योंऔरइससेक्यानुकसानहोसकताहैं?आदिपरप्रकाशडालतेहैं।बचावकेलिएहरएकलोगोंकोजागरूकरखनेकीपहलकरतेहैं।मेडिकलकॉलेजकीछात्र-छात्राओंकीओरसेहरसालपेंटिगएवंरैलीकेमाध्यमसेहरएकलोगोंकोजागरूककरनेकाआह्वानकियाजाताहैं।

एचआईवीएकलेंटीवायरसहै।जोअक्वायर्डइम्युनोडेफिशिएंसीसिड्रोमएड्सकाकारणबनताहैं।यहमनुष्योंमेंएकअवस्थाहैं।जिसमेप्रतिरक्षातंत्रविफलहोनेलगताहैं।ऐसेअवसरवादीसंक्रमणकेकारणमरीजकीमृत्युतककाखतराउत्पन्नहोजाताहैं।एचआइवीकासंक्रमणरक्तकेअंदर,वीर्य,मांकेदूधमेंहोताहैं।इसकेमुख्यचारकारणहोताहैं।अनैतिकसंबंध,संक्रमितखूनचढ़ाना,संक्रमितइंजेक्शनऔरगर्भवस्थाकेदौरानमांसेबच्चोंकासंक्रमण।नशेकीलतभीइसकाएककारणहैं।खासकरड्रग्सलेनेवालोंकेलिए।कारणएकहीइंजेक्शनसेकईलोगड्रग्सलेतेहैं।

डॉ.अमिताभचौधरी

By Doyle