हाजीपुर:कहतेहैंकिहाजीपुरशहरमेंसमयहजारोंकीसंख्यामेंपेड़पौधेथे।आजकेदिनशहरकादिलकहेजानेवालेराजेन्द्रचौकपरकिसीदौरमेंजंगलहुआकरताथा।आरएनकालेजजानेवालीसड़ककीदोनोंओरबगीचेथे।त्रिमूर्तिचौककेनिकटविशालकायइमलीकेकईपेड़थे।पुरानागंडकपुलरोडमेंफलदारऔरछायादारदरख्तहुआकरतेथे।आजजहांशिवाजीद्वारहैउसीकेपासधर्मशालाकेपासबसस्टैंडहुआकरताथाजहांवहांसेबिदुपुर,महनारऔरमोहिउद्दीननगरकेलिएबसें,खुलाकरतीथीं,वहांभीकईपेड़थेलेकिनआजइनसभीजगहोंदरख्ततोनहींदिखते,कंक्रीटकेजंगलजरूरउगआएहैं।बेतरतीबशहरीकरणनेशहरकीबिगाड़ीसूरतविकासकीअंधीदौड़औरबेतरतीबशहरीकरणनेशहरकाऐसाहालबनायाकिदरख्तोंकेलिएएकइंचजगहहीनहींछोड़ी।आजहाजीपुरकीपहचानधूल,धुआं,जामकेलिएहै।ऊंचे-ऊंचेमकानऔरएकईंचखालीजमीननछोड़नेकीप्रवृत्तिनेइसशहरकोबेरंगाकरदियाहै।हालयेहैकिसंकुचितप्रवृत्तिनेगलियोंऔरसड़कोंकाभीअतिक्रमणकरलियाहै।शहरमेंशायदहीअबकोईऐसाइलाकादिखताहैजहांऊंगलीपरगिनेजानेयोग्यपेड़-पौधेबचेहैं।जोथोड़ेबहुतपेड़-पौधेहैंवेसरकारीकॉलेजोंऔरकोनहाराकेइलाकेमेंदिखतेहैं।यहतोहालहैहाजीपुरशहरका।अबजरागांवकीओररुखकरें।चोरी-चुपकेकाटेजारहेहैंसड़ककिनारेपेड़वैशालीजिलेकेग्रामीणइलाकोंमेंपेड़-पौधेतोहैंलेकिनसड़कोंकेकिनारेबड़े-बड़ेदरख्तोंकीचोरी-छुपेकटाईभीजारीहै।पेड़ोंकेकटानकोदेखानाहैतोआपलालगंजसेवैशालीजानेवालेरोडमेंदेखसकतेहैं।सड़ककिनारेदोनोंओरकुछवर्षोपहलेतकबड़े-बड़ेपेड़दिखाईदेतेथे।आजउनकीजगहठूंठदिखाईदेतेहैं।उनपेड़ोंकोकाटकरगायबकरदियागया।किसनेकाटा,कबकाटा,काटनेकेबादवनविभागनेएफआईआरदर्जकराईयानहीं,एफआईआरदर्जहुईतोक्याकार्रवाईहुई,यहलंबेशोधकाविषयहै।इससंबंधमेंनातोवनविभागकेपासकोईआंकड़ाहैऔरनाहीथानेमेंकहींकोईइसकारिकार्डमिलनेकीउम्मीदहै।बिनालाइसेंसकेचलरहेदर्जनोंआरामिलवैशालीजिलेमेंदर्जनोंआरामिलबिनालाइसेंसकेचलरहेहैं।ऐसेमिलोंकाकोईआंकड़ावनविभागकेपासनहींहै।गैरलाइसेंसीआरामिलधड़ल्लेसेचलरहेहैं।उनकेपरिसरमेंमोटे-मोटेपेड़ोंकीलकड़ियोंकेबोटेइफरातमेंदेखेजासकतेहैं।काटेगएयेपेड़कहांसेआरहेहैंइससंबंधमेंकोईकुछमुंहखोलनेकेलिएतैयारनहींहै।हालांकिसबकोपताहैकिचोरी-छुपेपेड़काटकरआरामिलोंतकपहुंचाएजारहेहैं।वैशाली,लालगंज,भगवानपुर,सहदेई,महनार,महुआमेंदर्जनोंआरामिलबिनालाइसेंसकेचलरहेहैं।कभी-कभीवनविभागछापेमारीकरअपनीपीठथपथपाताहैलेकिनफिरसबकुछपहलेकीतरहबदस्तूरचलतारहताहै।कुछइलाकोंमेंपौधलगानेकाजुनूनभीवैशालीेजिलेकेकुछइलाकोंमेंहरसालपौधलगानेकाजुनूनभीदेखनेकोमिलरहाहै।वैसेतोवनविभागभीपौधेलगारहाहैऔरकिसानोंकोभीपौधेलगानेकेलिएप्रेरितकररहाहै।जिलेकेपातेपुरप्रखंडकेसुक्कीगांवमेंहरसालआमकेनएबगीचेतैयारकिएजारहेहैं।उसगांवकेरकवेके90प्रतिशतहिस्सेमेंआमकेबगीचेहैं।लालगंजरोडमेंखासकरनामीडीह,घटारो,चांदी,हरौली,रौदीपोखर,इस्माइलपुरआदिगांवोंमेंवानिकीकेप्रतिकिसानोंमेंकाफीरुझानहैऔरयहशुभसंकेतहै।अगरहमनएपौधनहींलगासकतेतोहमेंकिसीभीपेड़कोकाटनेकाकोईअधिकारनहींहै।इधरजिलेकेकुछलोगोंमेंएकऔरअच्छीप्रवृत्तिनेजोरपकड़ाहै।कईलोगअपनेबच्चोंकेजन्मदिनपरपौधेलगारहेहैं।इसजिलेके25प्रतिशतलोगोंमेंइसप्रवृत्तिनेअगरजोरपकड़लियातोवैशालीजिलाएकबारफिरहरा-भराहोजाएगा।

By Douglas