खगड़िया।खगड़ियामेंसरकारीशिक्षाव्यवस्थाचौपटहोकररहगईहै।शहरसेलेकरसुदूरगांव-देहाततकमेंगुणवत्तापूर्णशिक्षाकीधज्जियांउड़रहीहै।शिक्षाविभागकेअधिकारीविद्यालयनिरीक्षणकेनामपरसिर्फखानापूर्तिमेंलगेहुएहैं।सुदूरगांव-देहातमेंकोईदेखनेवालानहींहै।सूत्रोंकीमानेतोसेटिग-गेटिगकाखेलधड़ल्लेसेजारीहै।सोमवारको'दैनिकजागरण'कीटीमनेजबसरकारीविद्यालयोंकाजायजालिया,तोकईचौंकानेवालेसचसामनेआए।

मध्यविद्यालयथरुआटोलामेंकुलनौमेंमात्रपांचशिक्षकमौजूदथे।प्रधानाध्यापकयोगेंद्रप्रसादनेबतायाकिएकशिक्षकसीआरसीहैंएवंएकशिक्षकप्रतिनियुक्तहैं।शिक्षिकासुधाकुमारीकईवर्षोंसेनहींआरहीहै।मध्यविद्यालयडीहसंझौतीमेंछात्रोंकेअनुपातमेंवर्गकक्षकीकमीहै।यहांभीशिक्षकसमयपरनहींआतेहैं।शिक्षिकाकुमारीसरितानेबतायाकिआजप्रधानाध्यापकभारतसाह,केंदुकुमारीऔरमुकेशकुमारअवकाशमेंहैं।जबकिसुमनकुमारसीआरसीहै।यहांछात्रउछल-कूदमचातेदिखे।जबकिमध्यविद्यालयअंबामेंभीव्यवस्थालचरदिखी।यहांशिक्षकरामचंद्रकुमारकबआतेहैंऔरजातेहैं,यहपताकिसीकोनहींरहताहै।शिक्षिकाआशाकुमारीएवंनीरजकुमारदूसरेविद्यालयमेंप्रतिनियुक्तहैं।जिनकेबारेमेंप्रधानाध्यापकउदयचंद्रनेबतायाकिशिक्षककेप्रतिनियुक्तरहनेसेपठन-पाठनप्रभावितहोरहाहै।दूसरीओरमध्यविद्यालयछर्रापट्टीमेंगुणवत्तापूर्णशिक्षाकीपोलखुलरहीहै।यहांशिक्षक12बजेआतेहैंऔरदोबजेचलेजातेहैं।सोमवारको11बजेमात्रनागेंद्रकुमार,आलोककुमारऔरसंतोषभारतीहीउपस्थितथे।प्रधानाध्यापकसंतोषभारतीनेबतायाकियहांसभीशिक्षकलोकलहैं।मैंक्याकरसकताहूं।मध्यविद्यालयरामपुर,अलौलीमेंभीअधिकांशशिक्षकसमयपरनहींआतेहैं।कईशिक्षकदूसरेप्रखंडमेंप्रतिनियुक्तहैं।विद्यार्थियोंकोपोषाकऔरछात्रवृतिकीराशिनहींमिलीहै।शिक्षकनवीनकुमारनेबतायाकिहमेंकोईजानकारीनहींहै।प्रधानाध्यापकपंचायतउपचुनावकोलेकरड्यूटीमेंहैं।जबकिप्रखंडशिक्षापदाधिकारीरामकुमारसिंहनेबतायाकिमेरेद्वाराएकभीप्रतिनियोजननहींकियागयाहै।अगरकहींकोईगड़बड़ीहै,तोजांचकरकार्रवाईकीजाएगी।

By Finch