संतोषशर्मा,अलीगढ़:प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकेभाषणपरदुनियाभरकीनजरेथीं।सभीकेमनमेंएकहीसवालथाकिपीएमक्याबोलेंगे?मोदीनेजबबोलनाशुरूकियातोऐसालगाजैसेयूनिवर्सिटीमेंरचेबसेहों।ऐतिहासिकइमारतोंकोनामसेपुकारातोअलीग्सवपार्टनरकहकरएएमयूबिरादरीकोरिझानेकाकामकिया।यूनिवर्सिटीकोमिनीइंडियाकहकरतोदेश-विदेशमेंफैलीअलीगबिरादरीकादिलहीजीतलिया।छात्रोंकोनएभारतकेलिएकामकरनेकोप्रेरितकियातोसामाजिकएकताकापाठभीबढ़ाया।संदेशभीदियाकिआपकोमतभेदभुलाकरकामकरनाहोगा।सरकारभीआपकीप्रगतिमेंपीछेनहींरहेगी।राष्ट्रनिर्माणमेंएएमयूकीभूमिकाकाजिक्रकरतेहुएउनलोगोंचेतायाभी,जोआएदिनएएमयूपरहमलावररहतेहैं।

अलीगढ़मुस्लिमयूनिवर्सिटी(एएमयू)केशताब्दीसमारोहमेंमोदीभलेहीवर्चुअलीशामिलहुएहोंलेकिनउनकेसंबोधनसेऐसालगरहाथाकिएएमयूमेंहीहों।कैंपसमेंहलचलभीउसीतरहकीथी।कार्यक्रमकेदौरानयूनिवर्सिटीकैंपसमेंसतर्कताभीऑफलाइनकार्यक्रमकीतरहथी।प्रधानमंत्रीने34मिनटकेभाषणमेंनारीशिक्षा,आत्मनिर्भरभारत,शोधवएकजुटतापरअधिकजोरदिया।छात्रोंकोसंदेशदियाकिइनोवशनकिबिनाकुछनहींहैं।नएभारतमेंएएमयूकीभूमिकाअहमहोगी।एकजुटतासेजोहासिलकरसकतेहैं,वोबिखरावसेनहीं।एएमयूमेंयेबातेंइसलिएभीमहत्वपूर्णहैंकियोगी-मोदीआएदिनछात्रोंकेनिशानेपररहतेहैं।पीएमनेएएमयूकोमिनीइंडियाकानामदियातोसबगदगदहोगए।कहा,बहुतसेलोगबोलतेहैंकिएएमयूकैंपसअपनेआपमेंएकशहरकीतरहहै।एकमिनीइंडियानजरआताहै।

एएमयूकीइमारतअमूल्यधरोहर

प्रधानमंत्रीनेएएमयूकेकार्यक्रममेंशामिलहोनेपरआभारजताया।कहा,आपनेशताब्दीसमारोहकेऐतिहासिकअवसरपरमुझेअपनीखुशियोंकेसाथजुड़नेकामौकादिया।तस्वीरोंसेगेट,सोशलसाइंसडिपार्टमंट,मासकम्युनिकेशनविभागकीइमारतकोखूबसूरतीसेसजायागयाहै।येइमारतेंनहींहैं।इनकेसाथशिक्षाकाजोइतिहासजुड़ाहै,वोभारतकीअमूल्यधरोहरहै।यहांसेतालीमलेकरछात्रभारतकेसर्वश्रेष्ठस्थानोंवसंस्थाओंवविदेशमेंछाएहुएहैं।मुझेविदेशयात्राकेदौरानयहांकेएल्युमिनाईमिलतेहैंजोबहुतगर्वसेबतातेहैंकिहमएएमयूमेंपढ़ेहैं।एल्युमिनाईएएमयूकैंपससेअपनेसाथहंसीमजाकवशेरोशायरीकाअलगअंदाजलेकरजातेहैं।

बेगमसुल्तानजहांकोचांसलरबनानेकोबतायाऐतिहासिक

मोदीकाभाषणनारीशिक्षापरजोरदेनेवालारहा।पीएमनेखुशीजतातेहुएकहाकिएएमयूमेंफीमेलस्टूडेंटसकीसंख्याबढ़कर35प्रतिशतहोगईहै।इसपरसबकोबधाईदेतेहुएउन्होंनेखुदभीतालीबजाई।कहा,मुस्लिमबेटियोंकीशिक्षावसशक्तिकरणपरसरकारबहुतध्यानदेरहीहै।पिछलेछहसालमेंसरकारनेएककरोड़मुस्लिमबेटियांकोस्कॉलरशिपदीहै।हमाराप्रयासहैकिजेंडरकेआधारपरभेदभावनहो,सबकोबराबरकाअधिकारमिले।एएमयूकेलिएयेगौरवकीबातहैकिसंस्थापकचांसलरमहिलाकेरूपमेंबेगमसुल्तानजहांथीं।सौसालपहलेकीपरिस्थितिमेंयहबहुतबड़ाकामथा।आधुनिकमुस्लिमसमाजकेनिर्माणकाकामतोउसीसमयसेशुरूहोगयाथा।

कुलपतिकोपुकाराभाई

पीएममोदीनेसंबोधनसेपहलेचांसलरडॉ.सैयदनामुफद्दलसैफुद्दीन,शिक्षामंत्रीडॉ.रमेशपोखरियालनिशंक,शिक्षाराज्यमंत्रीसंजयधोत्रेकेअलावासभीप्रोफेसर्स,स्टाफवकार्यक्रममेंजुड़ेएएमयूकेहजारोंछात्र-छात्राओंकाजिक्रकिया।कुलपतिप्रो.तारिकमंसूरकोवाइसचांसलरभाईतारिकमंसूरजीकहकरसंबोधितकिया।

कोईघोषणानहींकी

एएमयूकेशताब्दीसमारोहमेंशामिलहोनेपरसबकीनजरइसबातभीटिकीथीकिमोदीदेकरक्याजातेहैं?मोदीनेअपनेभाषणज्ञानऔरप्रेरणादेनेकीबाततोबहुतकीं,लेकिनविकासकार्योंकेलिएबजटकीबातनहींकी।हालांकिकुलपतिप्रो.तारिकमंसूरनेकेंद्रकोभेजेप्रस्तावकाजिक्रभीकियाथा।मोदीनेभाषणकेआखिरमेंयहकहकरउम्मीदभीकायमरखीकिजरूरतपड़नेपरसरकारएएमयूकेविकासमेंपीछेनहींरहेगी।

By Duffy