दीपसिंहबोरा,अल्मोड़ा:दुर्लभफर्नप्रजातियोंकाजंगलबसानेकेबादअबजैवविविधतासेलबरेजअल्‍मोड़ाजिलेकेसौनीबिनसर(ताड़ीखेतब्लॉक)मेंउत्तराखंडकापहला'स्पाइसगार्डन'यानिमसालाउद्यानजल्दआकारलेगा।इसमेंविलुप्तिकीकगारपहुंचचुकीगंधरैड़ी,जंबू,फरड़आदितमामदुर्लभमसालाएवंऔषधीयवनस्पतियोंकोसंरक्षितकियाजाएगा।इनबहुपयोगीवनस्पतियोंकीवंशावलीभीबढ़ाईजाएगी।खासबातकियहांहिमालयीराज्यमेंपाईजानेवालीसभीमसालाप्रजातियोंकोअनूठासंसारविकसितकियाजानेलगाहै।

प्रदेशमेंमसालाएवंऔषधीयउपयोगवाली23प्रमुखमसालावनस्पतिप्रजातियांहैं।इनमेंकुछकिस्मेंअवैज्ञानिकदोहनवअनियोजितविकासकेसाथहीमानवीयदखलसेसंकटकेदौरसेगुजररहीहैं।यानिविलुप्तहोनेलगीहैं।इनबहुपयोगीवनस्पतियोंकोसंरक्षितकरवजूदबचाएरखनेतथाव्यावसायिकखेतीकोबढ़ावादेनेकेमकसदसेवनअनुसंधानकेंद्रकालिका(रानीखेत)नेअभिनवप्रयोगकियाहै।पहलेचरणमेंसौनीबिनसरमेंकरीबपांचहेक्टेयरक्षेत्रफलमेंराज्यकेअनूठे'स्पाइसगार्डन'तैयारकियाजारहाहै।

येमसालाप्रजातियांहोंगीखास

वनएवंआमाहल्दी,गंधरैणीपरिवारकीछिप्पी,जंबूकीपांचप्रजातियां,अलसी,भंगीरा,जखिया,पीलीलाखौरीमिर्च,अल्मोड़ापाती(चल्मोड़ी),बड़ीहल्दी,कालाजीराआदि।

बनेगाअध्ययनस्थल,किसानोंकोहोगालाभ

'स्पाइसगार्डन'शोधार्थियोंकेलिएअध्ययनकेंद्रतोबनेगाही,यहांकिसानोंकोभीमसालाप्रजातियोंकीखेतीकेलिएप्रेरितकरप्रशिक्षणदियाजाएगा।ताकिआसपासकेग्रामीणवदूरदराजकेकाश्तकारयहांसेतकनीकहासिलकरव्यावसायिकखेतीकरआर्थिकरूपसेआत्मनिर्भरबनसकें।

महासंकटमेंमहत्ववमांगबढ़ी

कोरोनाकालमेंबहुपयोगीमसालाप्रजातियोंकामहत्ववमांगबढ़ीहै।निश्चितमात्रामेंइनकाइस्तेमालसामान्यबुखारसेलेकरघातकवायरससेलडऩेकीताकतदेतेहैं।कईप्रजातियांपाचनतंत्रसेलेकरकिडनीवलिवरकोमजबूतीभीदेतीहैं।मसलन,चल्मोड़ीकीचटनीपेटकेविकारोंकोदूरकरतीहै।वनएवंआमाहल्दीएंटीबायोटिकहैतोअलसीमेंप्राकृतिकओमेगाहृदयरोगआदिमेंकारगरहोतीहै।

अगस्तकोहोगाविधिवतशुभारंभ

शोधएवंवनक्षेत्राधिकारीकालिकावनअनुसंधानकेंद्रकालिकाआरपीजोशीनेबतायाकिसौनीबिनसरमेंराज्यकापहलास्पाइसगार्डनअगस्तपहलेसप्ताहमेंमूर्तरूपलेलगा।शुरुआतमेंकुछप्रजातियोंकीपौधलगाईहैं।आमाहल्दीकेबीजबोएहैंजोअंकुरितहोनेलगेहैं।आठअगस्तकोइसकाविधिवतशुभारंभकियाजानाहै।उत्तराखंडमेंपाईजानेवालीसभी23प्रजातियोंकेसाथकुछअन्यमसालावनस्पतियांभीइसउद्यानमेंसंरक्षितकरेंगे।

By Duffy