सरायतरीन(सम्भल):कोरोनामहामारीकेचलतेलोगोंकेकारोबारपरअबसंकटगहरानेलगाहै।खासकरपुश्तैनीकारोबारसेजुड़ेलोगभुखमरीकेकगारपरपहुंचगएहैं।सरायतरीनमेंजूताकेकारोबारसेकईपरिवारजुड़ेहुएहैं,लेकिनकोरोनानेइनकीमशीनोंकोभीलॉककरदियाहै।इनकेकेलिएपरिवारचलानामुश्किलहोगयाहैं,क्योंकिकच्चामालआगरासेआताहैवहमरीजज्यादानिकलरहेहैं।ऐसेमेंक्वारंटाइननहोनापड़जाएइसडरसेवहजानहींरहेहैं।सरायतरीनमेंबनाजूताआपपासकेजनपदमेरठ,बिजनौर,मुजफ्फरनगरऔरमुरादाबादकोतैयारमालजाताहैं।

सालोंसेजारीकारोबारपरलगाब्रेक

सरायतरीनकेमुहल्लाशाहजीपूरामेंजूताबनानेवालेकारखानेमेंबन्दपड़ीमशीनइसबातकीतस्दीककरनेकेलिएकाफीहैंकिपिछलेकईमहीनोंसेयहांएकजोड़ाजूतानहीबनाहै।कुटीरउद्योगकीयहदुर्दशाहैं।यहांकीडिजाइनदारऔररंग-बिरंगीजूतेबनानेकाकारोबारसालोंसेफलता-फूलताआरहाहै।इसपुश्तैनीधंधेसेकईपरिवारअपनेलिएदोजूनकीरोटीकीजुगाड़करतेरहेहैं।लेकिनपहलेकोरोनाकालनेइनकेकारोबारऔरकमाई,दोनोंपरब्रेकलगादियाहै।आगरासेआताहैकच्चामाल

सरायतरीनमेंबननेवालेजूताबनानेकेलिएकच्चामालआगरासेआताहैं।वहांपरमरीजज्यादानिकलरहेहैं।कारोबारीडरकेमारेकच्चामाललेनेआगरानहींजारहेहैं।अगरमाललेनेगएतोजिलाअस्पतालजाकरस्वास्थ्यकीजांचकरानीपड़ेगी।30सालसेजूताबनानेकाकामकररहेहैं।पहलेलॉकडाउनकीवजहसेकामबंदपड़ाहैं।पहलेकाकुछमालतैयारहैंपरंतुअनलॉकडाउनकीमेंतैयारमाललेनेकोईनहींआरहाहैं।

भगवानदासकोरोनाकीवजहसेतैयारमालनहींबिकसका।करोबारचौपटपड़ाहै।भुखमरीकेकगारपरहैं।सरकारद्वाराकोईसहायतामिलेतोराहतमिले।कच्चामालआगरासेआताहैवहांपरमरीजज्यादाहैतोआनेजानेमेंभीपरेशानीहै।हरिओम,कारोबारीएकजोड़ीजूताबनानेके20रुपयेमिलतेहैंदिनभरमें10से12जोड़ीजूतेबनालेतेहैंतोघरकाखर्चचलताथा।कोरोनाकीवजहसेकामबंदहुआतोभुखमरीकीकगारपरआपहुंचे।

संजयकुमार,कारीगर

By Elliott