संवादसहयोगी,गोपेश्वर:ऋषिगंगामेंआएसैलाबमेंजलप्रलयमेंलापताव्यक्तियोंकीसूचीमेंकुछमजदूरभीशामिलहैं।नेपालमूलकेइनमजदूरोंकीखोजकेलिएउनकेस्वजनजोशीमठपहुंचेहैं।नदीकिनारेअपनोंकीखोजबीनकेसाथयहांक्षतिग्रस्तरास्तोंकीमरम्मतकार्यमेंभीलगेहुएहैं।

समीरबहादुरजलविद्युतपरियोजनामेंमजदूरीकाकार्यकरताथा।उसकेसाथ24अन्यमजदूरभीकार्यकररहेथे।जलप्रलयमेंअन्यतोसुरक्षितबचनिकले,लेकिनसमीरबहादुरलापताहै।ऐसेहीकुछअन्यमजदूरोंकेभीलापताहोनेकीसूचनाहै।नेपालसेअपनोंकीखोजमेंआएविष्णुमल्लाबहादुरमूलरूपसेजिलाप्यूंठानकेरसबरागांवकेरहनेवालेहैं।अपनेनिकटस्थरिश्तेदारकेलापताहोनेकेबादवहगांवकेआठअन्यव्यक्तियोंकेसाथतपोवनपहुंचेहैं।लेकिनइसदौराननदीकेकिनारेखोजबीनकेलिएजातेवक्तजगह-जगहरास्तेक्षतिग्रस्तदेखकरवहइन्हेंबनानेमेंजुटगए।अभीतकउनकीटीमनेजुआग्वाड़जानेकारास्ताबनायाहै।हालांकिइसकेलिएमजदूरीभीलीगईहै।

नेपालकेनौगानीगांवकेसम्राटबहादुरगुरंगभीइसीटीमकाहिस्साहैं।उनकाकहनाहैकिसाथीकीखोजकेलिएवेभलेहीयहांआएहैं।लेकिनयहांपरआपदाकेबादमजदूरघरोंकोपलायनकरगएहैं।डरकेमारेयहांमजदूरकामनहींकरनाचाहते,लिहाजाआपदाप्रभावितोंकीसमस्याकोदेखकरउन्हेंलापतासाथीकीखोजबीनकेसाथग्रामीणोंकेलिएगांवजानेकेरास्तेवखाद्यसामग्रीपहुंचानेकाकामकरराहतऔरबचावकार्यमेंअपनायोगदानदेनेकीखुशीहै।प्यूंठानजिलेकेहीरेशमबहादुरकाकहनाहैकिजुआग्वाड़जानेकारास्ताइतनाखतरनाकथाकियहांपरकोईभीकार्यकरनेकोतैयारनहींथा।हमनेनकेवलगांवकारास्ताबनाकरआवाजाहीसुचारुकराईबल्किगांवतकखाद्यसामग्रीभीपहुंचाई।भलेहीग्रामीणोंनेउन्हेंमजदूरीदी।कहनाहैकिअबवेआपदाप्रभावितक्षेत्रमेंजहांभीराहतऔरबचावकाकार्यहोगाउसमेंभागीदारीनिभातेरहेंगे।

By Finch