राममूर्तिप्रसाद,बोकारो:बच्चेकीसफलतामेंमाताकाअतुलनीययोगदानहोताहै।वहकष्टसहकरअपनेबच्चेकोसुखदेतीहै।माताबच्चेकाविशेषखयालरखतीहैं।इनकेत्यागवपरिश्रमसेहीपरिवारवसमाजकास्वरूपनिखरताहै।बोकारोइस्पातनगरकीरेखासिंहएवंसचीरस्तोगीबाधाओंसेसंघर्षकरतेहुएकड़ीमेहनतसेअपनेबच्चोंकाभविष्यसंवाररहीहैं।साथहीघर-परिवारकोआर्थिकरूपसेसबलबनानेमेंयोगदानकररहीहैं।

माताकेकुशलमार्गदर्शनमेंमनीषनेहासिलकियामुकाम

बोकारोइस्पातनगरकेसेक्टरनौनिवासीरेखासिंहसुरभिकेंद्रसेक्टरचारमेंसुपरवाइजरकेरूपमेंकार्यरतहैं।इनपरजबअचानकपरिवारकाबोझएवंबच्चोंकेलालन-पालनकीजिम्मेवारीआगईतोवेकाफीपरेशानहोगईं।बच्चेछोटेथे।इनकेपासरोजगारकाकोईसाधननहींथा।अकेलेघरचलानाएवंबच्चोंकोशिक्षादेनापहाड़केसमानलगरहाथा।ऐसेमेंमहिलासमितिबोकारोनेसहारादिया।इन्होंनेमहिलासमितिबोकारोकीओरसेसंचालितफूडप्रोसेसिगयूनिट,सुरभिकेंद्रमेंकामकरनाशुरूकिया।यहांमसाला,ठेकुआ,नमकीनआदिबनानाशुरूकिया।यहांसेआमदनीहोनेलगीतोबेटामनीषकुमारवबेटीसुप्रियाकोबेहतरशिक्षादी।दिनभरकामकरनेकेबादवेघरलौटतीथींतोबच्चोंकीबेहतरतरीकेसेदेखभालकरतीथीं।इन्होंनेबच्चोंकाकुशलमार्गदर्शनकिया।इन्हेंजीवनमेंआगेबढ़नेकीसीखदी।इनकीपढ़ाईपरविशेषध्यानदिया।माताकेमार्गदर्शनमेंमनीषनेमुकामहासिलकिया।इसने2012मेंएनडीएमेंसफलताहासिलकी।वर्तमानमेंदरभंगामेंइंडियनएयरफोर्समेंस्क्वाड्रनलीडरकेपदपरकार्यरतहैं।सुप्रियाबीसीएकीशिक्षाग्रहणकरनेकेबादबैंकवअन्यप्रतियोगितापरीक्षाकीतैयारीकररहीहै।रेखासिंहनेकहाकिमहिलासमितिबोकारोनेसमयपरसहारा

दिया।अगरमहिलासमितिकासहयोगनहींमिलतातोसपनापूरानहींहोसकताथा।

सचीबच्चोंकोदेरहींआगेबढ़नेकीसीख

बोकारोइस्पातनगरकेकोऑपरेटिवकॉलोनीनिवासीसचीरस्तोगीपतिऋषभरस्तोगीवबच्चोंकेसाथजीवनगुजर-बसरकररहीथीं,लेकिन2015मेंपिताकेदेहांतकेबादइन्हेंतमामचुनौतियोंकासामनाकरनापड़ा।व्यवसायकेसाथ-साथछोटे-छोटेबच्चोंकोसंभालनेकीजवाबदेहीआगई,लेकिनइन्होंनेचुनौतियांकासामनाकिया।व्यवसायकेसाथपुत्रअर्शरस्तोगीवधैर्यरस्तोगीकोबेहतरशिक्षाप्रदानकी।व्यवसायकेबादसमयनिकालकरबच्चोंकीपढ़ाईपरविशेषध्यानदिया।इनकेदोनोंबच्चेपढ़ाईमेंबेहतरकररहेहैं।व्यवसायकोभीबेहतरतरीकेसेसंभालरहीहैं।उन्होंनेकहाकिविषमपरिस्थितियोंकामुकाबलाकरनाचाहिए।इससेघबरानानहींचाहिए।परिश्रमवलगनसेहीजीवनमेंसफलतामिलेगी।

By Farmer