पटना।जिलाधिकारीडॉ.चंद्रशेखरसिंहनेगायघाटमेंस्थितबालपर्यवेक्षणगृह,उत्तररक्षागृहएवंबालिकागृहनिशातकानिरीक्षणकिया।सुरक्षामानकोंऔरकोरोनानियमोंकेअनुसारतमामव्यवस्थासुधारनेकानिर्देशदिया।उन्होंनेशैक्षणिक,सास्कृतिकऔरखेलकूदकीव्यवस्थाकीजानकारीअधीक्षकसेली।सभीगृहमेंबाहरीव्यक्तियोंकाप्रवेशप्रतिबंधितकरनेकोकहा।खानपान,साफ-सफाईकाविशेषध्यानरखनेकेनिर्देशदिए।यहांरहरहेबच्चोंसेभीफीडबैकप्राप्तकिया।

अधीक्षकनेडीएमकोबतायाकिबालपर्यवेक्षणगृहमें107किशोरहैं।विशेषबालसुधारगृहमेंआठबच्चेहैं।किशोरऔरबच्चोंकीदेखरेखकेलिएतीनडॉक्टर,एकफिजियोथेरेपिस्टऔरएकनर्सकार्यरतहैं।रोस्टरकेअनुसार,बच्चोंकीस्वास्थ्यजाचनियमितरूपसेकीजातीहै।बच्चोंद्वारागीत-संगीत,नृत्यएवंचित्रकारीकीजातीहै।शैक्षणिकगतिविधियोंकोबढ़ावादेनेकेलिएप्राथमिकविद्यालयपर्यवेक्षणगृहगायघाटमेंसंचालितहै।

अतिरिक्तशिक्षकएवं

कंप्यूटरउपलब्धकराएं

डीएमनेविद्यालयमेंएकअतिरिक्तशिक्षकएवंकंप्यूटरउपलब्धकरानेकानिर्देशदिया।उन्होंनेकिशोरन्यायबोर्डकेकार्यालयमेंभीजाकरप्रधानदंडाधिकारीमनोरंजनझाऔरसदस्यशशिशर्मावनवाजउलहकसेविमर्शकिया।

महिलाडॉक्टरकीतैनाती

करनेकाकियाअनुरोध

जिलाधिकारीनेराजकीयउत्तररक्षागृहमेंभीबालिकाओंकेलिएसंचालितगतिविधियोंऔरसुविधाओंकीजानकारीली।गृहमें270बालिकाऔरमहिलाएंहैं।इसगृहमेंपांचशिक्षककार्यरतहैं।अधीक्षकनेयहांमहिलाडॉक्टरकीतैनातीकरनेकाअनुरोधकिया।

भोजनकीगुणवत्ता

डीएमकोबतायागयाकिबालिकागृहनिशातमें56बच्चियारहरहीहैं।डीएमनेगृहमेंबनाएगएभोजनकीगुणवत्ताकीभीजाचकी।निरीक्षणकेदौरानडीएमकेसाथअनुमंडलपदाधिकारीपटनासिटीमुकेशरंजन,जिलाजनसंपर्कपदाधिकारीप्रमोदकुमार,डीसीएलआरसिटीअखिलेशकुमार,प्रभारीजिलाशिक्षापदाधिकारीनीरजकुमार,उपस्थितरहे।

By Farrell