कानपुरमेंयमुनाने39सालबादअपनारौद्ररूपदिखायाहै।1982केबादयेपहलीबारहैजबकानपुरकेघाटमपुरतहसीरकेगड़ाथा,अमरतेरपुर,कटरी,मोहटासमेतकईगांवोंमें12फीटतकपानीचढ़ा।अबतकहरतरफसिर्फपानीहीपानीनजरआताथाऔरअब8दिनबादजबपानीघटनेलगाहैतोबर्बादीनजरआनेलगीहै।15हजारबीघासेज्यादाकीफसलबर्बादहोचुकीहै।गांवोंमेंअबबीमारीफैलनेकाडरसतानेलगाहै।चारोंतरफकीचड़औरसड़ांधहोनेलगीहै।दैनिकभास्करनेग्राउंडपरजाकरइसकाजायजालिया।पढ़िएपूरीरिपोर्ट...

हरतरफफैलीहैबदबू

15हजारबीघासेज्यादाफसलबर्बादहोचुकीहै।गांवोंमेंमातमजैसामाहौलहै।दर्जनोंमकानगिरगएहैं।हरतरफकीचड़हैं।जानवरलापताहैं।अनाजघरोंमेंसड़नेलगाहै।गांवमेंबाढ़केबादइसकदरदुर्गंधहैकिखड़ाहोनाभीमुश्किलहै।ग्रामीणोंनेबतायाकिरातमेंअचानकपानीचढ़नेलगा,जितनाअनाजनिकालपायेउतनानिकाललिया।बाकीभींगकरसड़रहाहै।बीमारियांगांवकेद्वारपरखड़ीहैंऔरसरकारीमददकोसोंदूरहैं।

फूटपड़ाग्रामीणोंकागुस्सा

बाढ़ग्रस्तक्षेत्रकेसबसेबड़ेऔरप्रभावितगांवगड़ाथामेंजबदैनिकभास्करकीटीमनेग्रामीणोंसेहालातऔरसरकारीइंतजामोंकेबारेमेंपूछातोग्रामीणोंकागुस्साफटपड़ा।गांवकेबुजुर्गश्रीपालसिंहनेबतायाकिफसलबर्बादहोगई,घरगिरगया,गांवकीछतपररहकरगुजर-बसरकररहे।सरकारीसुविधाकेनामपरकुछभीनहींमिला।रामकुमारतिवारीनेबतायाकिबाढ़केबादसबसेज्यादास्वास्थ्यविभागकीजरूरतहोतीहै।टीमेंआतीहैंलेकिन1किमी.अजगरपुरमेंबैठीरहतीहै।गांवमेंआजतकनहींआई।

3सालबादभीनहींमिलामुआवजा

ग्रामीणरघुनाथसिंहनेबतायाकि2018मेंभीबाढ़आईथी,15बीघाफसलनष्टहोगईथी।लेखपालनेसर्वेकररिपोर्टतैयारकी,लेकिनआजतकमुआवजानहींमिला।शिवपालकी13बीघा,मुन्नासिंहकी4.50बीघाऔरशुभमसिंहकी40बीघाजमीनकीफसलेंनष्टहोगईथी।शुभमऔरअन्यग्रामीणोंकीफसलभीपूरीतरहनष्टहोगईहै।ग्रामीणोंनेबतायाकि2018कामुआवजेकाएकरुपयाभीआजतकनहींमिला।

39सालबादआईऐसीबाढ़

गांवकेरामकुमारनेबतायाकि1982मेंऐसीबाढ़देखीथी।इसबारउससेभीज्यादाभयावहबाढ़देखी।3सालपहलेभीबाढ़आईथी,लेकिनइतनेबुरेहालातनहींथे।अबपानीउतरनेलगाहै,लेकिनबाढ़काखतराअबभीटलानहींहै।जानवरोंकेलिएचाराऔरइंसानकेलिएदानादोनोंहीनहींहै।रिश्तेदारोंकेयहांअनाजमंगाकरखारहेहैं।गांवमेंअबबीमारीफैलनेकाखतरामंडरानेलगाहै।

8दिनोंसेनहींहैबिजली

ग्रामीणराकेशसिंहनेबतायाकिबाढ़केबादसेअभीतकलाइटनहींआईहै।रातमेंपूरेगांवमेंदियेसेरोशनीकरकामचलानापड़रहाहै।मोबाइलतकबंदहोचुकेहैं।गांवमेंबाढ़केबादसेसांपबहुतहोगएहैं।उनकाभीडरसतातारहताहै।रातमेंघरकाकोईसदस्यजागताहैकिरातमेंबाढ़कापानीनचढ़नेलगजाए।

खानेकेलालेपड़गएहैं

ग्रामीणसंतोषनेबतायाकिउड़द,अरहर,मूंग,तिली,बाजराऔरधानकीफसलप्रमुखतासेहोतीहै।बाढ़सेपूरीफसलहीनष्टहोगई।बैंककाकर्जहै।अबकैसेजिंदगीचलेगी,नहींजानतेहैं।वहींगांवमेंजहांतकपानीचढ़ाथा,वहांहरियालीभीपूरीतरहनष्टहोगईहै।वहींगांवमेंकोईभीगाड़ीरुकतीहैतोउसकीतरफदौड़पड़तेहैंकोईअधिकारीआयाहोगाऔरउनकीबातसुनेगाऔरउनकीपहाड़जैसीसमस्याओंकाहलकराएगा।

By Farmer