जागरणसंवाददाता,फतेहपुर:बारिशवउमसकेमिले-जुलेमौसमसेसंक्रामकबीमारियोंनेधीरे-धीरेपैरपसारनाशुरुकरदियाहै।गंदगीवजलभरावसेमच्छरोंकाप्रकोपबढ़नेलगाहैजिससेअबतेजबुखार,मलेरिया,खुजलीवपीलियाकेमरीजआनेशुरुहोगएहैं।जिलाचिकित्सालयका118बेडोंवालापुरुषअस्पतालतेजबुखारवमलेरियाकेमरीजोंसेभरापड़ाहै।दूषितखानपानसेउल्टी-दस्तकेसाथतेजबुखारकेमरीजबढ़रहेहैं।रविवारकोबिलंदपुरनिवासीअनंतराम,नौशीननिवासीपीरनपुरकोतवाली,सरोजदेवीनिवासीमीसाथरियांव,पंजयमनिवासीविनोबानगरकोतवाली,राधादेवीनिवासीसहिमापुरसमेतदर्जनोंमरीजोंकोतेजबुखारवडायरियाकेचलतेपरिजनोंनेसदरअस्पताललाकरभर्तीकराया।वहींमलेरियावपीलियासेपरेशानमरीजदेवेंद्रकुमार,अफसानाबेगम,रेशमाबानों,बबलूश्रीवास्तव,अरशदअहमदआदिकाकहनाथाकितेजधूपकेसाथउमसभरीगर्मीकेबीचमौसमबदलरहाहैऔरबीचबीचमेंतेजबारिशहोरहीहैउसीवजहसेवहबुखारसेपीड़ितचलरहेहैं।जिलाअस्पतालकेसाथबहुआ,धाता,असोथर,हसवा,असोथर,गाजीपुरपीएचसी,खागावबिदकीसीएचसीमेंऐसेमरीजपहुंचेरहेहैं।डॉक्टरएनकेसक्सेनाकाकहनाहैकिउमसभरीगर्मीकेबीचबारिशहोनेसेबीमारियांबढ़रहीहैंइसलिएहरीसब्जियांठीकसेधोकरहीपकाएं।पानीउबालनेकेबादठंडाकरपीएं

सदरअस्पतालकेफिजिशियनडा.अरविदसचानवबालरोगविशेषज्ञडॉ.मूलचंद्रकाकहनाहैकिउमसभरीगर्मीमेंदूषितखानपानसेबचें।कहाकिहोरहीबारिशसेअपनेघरोंकेआसपासजलभरावनहोनेदेंऔरयदिजलभरावहोगयाहोतोतुरंतसाफकराएं।पीनेवालेपानीकोउबालनेकेबादठंडाकरपींएऔरखानपानकीसामग्रीमेंसतर्कताबरतें।दूषितखानपानसेबचे।

चिकित्सकीयटीमकीसलाहपरनजर

-बारिशकेपानीमेंभीगनेसेबचे

-उमसभरीगर्मीमेंअंगौछाबांधे

-रातकोमच्छरदानीलगाकरसोएं

-तेजबुखारपरतुरंतअस्पतालजाएं

-घरमेंताजेभोजनकासेवनकरें

-दूषितखानपानवबासीखानानखाएं

-साबुनसेहाथधोनेकेबादखानाखाएं

-बाहरकीखाद्यसामग्रीखानेसेबचें

-घरोंकेबाहरकीनालियांसाफरखें

-मकानकेपासजलभरावनहोनेदें।