बुलंदशहर,जेएनएन।कोरोनाकालमेंकरीब11माहबादछोटेबच्चोंकेस्कूलोंमेंफिररौनकलौटनेवालीहै।एकमार्चसेपहलीसेपांचवींकक्षातककेस्कूलखोलेजाएंगे।ऐसेमेंप्रांगणसेलेकरकक्षाओंमेंछोटेबच्चोंकीकिलकारियांसुनाईदेंगी।सड़कऔरगलियोंसेस्कूलआते-जातेबच्चेफिरअठखेलियांकरतेदिखाईदेंगे।जिसकोलेकरस्कूलसंचालकोंसेलेकरअभिभावकोंमेंभीउत्साहबनाहुआहै।कहींबच्चोंकेस्वागतकोलेकरउत्सवकीतैयारीकीगईहैतोकहींगुब्बारोंऔरआकर्षकसजावटकरकेप्रांगणकोसजायागयाहै।इसकेअलावासैनिटाइजरऔरमास्कवितरणकेसाथशिक्षकोंकीनिगरानीमेंशिक्षणकार्यकरानेकीव्यवस्थाकीगईहै।

सुरक्षाकेसाथपढ़ाईभीकरानाजरूरी

बच्चेकीसुरक्षाकोलेकरचितिततोहैलेकिनबच्चोंकीपढ़ाईभीजरूरीहै।इसलिएमाताओंकोखासकरज्यादाध्यानदेनाहोगा।उनकीजिम्मेदारीभीअबबढ़जाएगी।उन्हेंबच्चोंकोकोरोनासेबचानाभीकरनाहोगाऔरबेहतरभविष्यकेलिएस्कूलभीभेजनाहोगा।कोरोनामहामारीकोलेकरसुरक्षामानकोंकोध्यानमेंरखतेहुएपूरीतैयारीकेसाथबच्चोंकोस्कूलभेजाजाएगा।

सीमाचौहान,अभिभावक,प्रीतविहार।

अभिभावकोंसंगस्कूलसंचालकोंकोनिभानीहोगीजिम्मेदारी

काफीसमयसेबच्चेघरपररहरहेथे।अबस्कूलखुलनेपरबच्चोंकाभीमाहौलबदलेगा।पढ़ाई-लिखाईकेसाथसाथियोंकेसंगउन्हेंखेलकूदकरनेकामौकामिलेगा।हालांकिअभिभावककोविड-19केसुरक्षाउपायोंकोध्यानमेंरखतेहुएबच्चोंकोस्कूलभेजेंगे।स्कूलपहुंचानेकेबादसंचालकोंकीजिम्मेदारीरहेगी।जहांबच्चोंकीसुरक्षाउन्हेंनिभानीहोगी।क्योंकिकाफीदेरतकबच्चास्कूलमेंरहेगा।

जोगेंद्रकुमार,अभिभावक,देवीपुरा।

स्वागतकरकेबैठाएंगेकक्षाओंमें

पहलेदिनजबछोटेबच्चेजबस्कूलपहुंचेतोएकउत्सवजैसामाहौलतैयारकियाजाएगा।गुब्बारे,रंग-बिरंगीझालरोंसेस्कूलकोसजायाजाएगा।बच्चोंकीथर्मलस्क्रीनिगकराईजाएगी।हाथोंकोसाबुनसेधोनेऔरसैनिटाइजरसेसाफकरानेकीव्यवस्थारहेगी।उनकेमाथेपरटीकालगाकरस्वागतकरकेकक्षाओंमेंबैठायाजाएगा।साफ-सुथरेआसानपरबैठाकरमध्यावकाशमेंभोजनखिलायाजाएगा।

सुनीतासोलंकी,प्रधानाध्यापिका,प्राथमिकस्कूलनौसेना।

शिक्षकोंकीनजरमेंरहेंगेबच्चे

कक्षाओंमेंअबछोटेबच्चेपहुंचेंगे,जिनकीबेहतरदेखभालकीजरूरतहोगी।इसलिएकोरोनासेबचावकेसभीसुरक्षाउपायअपनाएगएहैं।बैठकबुलाकरसभीशिक्षकोंकोनिर्देशभीदिएजाचुकेहैं।सभीअभिभावकोंसेअनुमितलेकरहीबच्चोंकोस्कूलप्रवेशदिलायाजाएगा।हरएकबच्चेपरशिक्षककीनजररहेगी।इसकेअलावास्कूलनहींआनेवालेबच्चोंकीआनलाइनकक्षाएंभीसंचालितकराईजाएंगी।

डा.नीरजसिघल,प्रबंधक,लीलावतीकांवेंटस्कूल।

हरगतिविधिपरबनीरहेगीनजर

कोविड-19कीरोकथामकेसाथशिक्षणकार्यकरानेकेजोनिर्देशमिलेहैं।उसीकेअनुसारजिलेकेसभीनिजीस्कूलोंमेंव्यवस्थाकीगईहै।पंजीकृतसंख्यासेआधेबच्चोंकोअभिभावकोंकीसहमतिसेस्कूलबुलायाजाएगा।बच्चोंकेस्कूलमेंप्रवेशकरनेकेपहलेउनकीथर्मलस्क्रीनिंगकराईजाएगी।कतारलगवाकरकक्षाओंमेंभेजाजाएगा।पढ़ाई,लंचआदिगतिविधियोंपरशिक्षकोंकीनजरबनीरहेगी।

अभिरागशर्मा,अध्यक्षसीबीएसईस्कूलवैलफेयरएसोसिएशन।

By Duncan