अमरोहा:बचपनकेजुनूनकोफिरसेजिदाकरएकबहूकामयाबीकीसीढि़यांचढ़तीजारहीहै।वहसिगरबनगईहैऔरइंटरनेटसाइट्सपरउसकेगानोंकीधूममचरहीहै।कईगानेवभजनयू-ट्यूबपरअपलोडहोचुकेहैं।6000लोगोंनेउसकोपसंदकियाहैजबकि355सबक्राइबकरचुकेहैं।

अमरोहाकेमोहल्लाजटबाजारकीरहनेवालीसुरभिमाहेश्वरीकेपतिसुनीतमाहेश्वरीव्यापारीहैं।करीबसातसालपहलेवहअपनेपरिवारकेसाथगाजियाबादशिफ्टहोगए।यहांकामधंधाकरनेलगे।एमएससी,बीएडपत्नीसुरभिशिक्षणकार्यकरनेलगीं।एकदिनवहआर्टऑफलिविगसेंटरमेंगईंऔरवहांपरभजनगाया।उनकीआवाजकेसबलोगकायलहोगए।उन्होंनेसुरभिकेगानेकीतारीफकीऔरइसीक्षेत्रमेंआगेबढ़नेकारास्तासुझाया।फिरक्याथाउन्हेंएकहौसलामिलगया।परिवारनेभीआगेबढ़नेमेंसहयोगशुरूकरदिया।एककंपनीमेंगईंऔरगानागानेकीकलासीखी।इसकेबादसुरभिनेपलटकरनहींदेखा।अबवहअच्छीसिगरबनगईहैं।

ग्रेटरनोएडमेंसोनीम्यूजिकस्टूडियो,गाजियाबादकेएवाइस्टूडियोमेंगानावभजनगातीहैं।इसकेअलावाउनकेएकदर्जनसेअधिकगानेवभजनयू-ट्यूबपरअपलोडहोचुकेहैं।उनकीआवाजअबलोगोंकेदिलोंकोछूरहीहै।जबरदस्तलाइकमिलनेलगेहैं।बकौलसुरभि-अबतक6000लोगोंनेउसकोयू-ट्यूबपरलाइककियाहै।355सबक्राइबकरचुकेहैं।सोशलसाइट्सफेसबुकपर2040लोगोंकेलाइकमिलेहैं।बचपनमेंगातीथींगानाऔरजीततीथींप्राइज

अमरोहा:गृहणीसेगायकबनींसुरभिमाहेश्वरीकहतीहैंकिगानागानेकीआदतउनकोबचपनसेथी।स्कूल-कॉलेजमेंजोभीकार्यक्रमहोतेथे।इसमेंवहशिरकतकरतीथीं।शुरूसेहीआवाजअच्छीथी।इसलिएसबसेज्यादाइनामभीमुझेहीमिलतेथे।शादीकेबादसबकुछबदलगयाथालेकिन,अबमुझेफिरसेमंजिलमिलगईहै।अबछोटे-छोटेकार्यक्रमोंमेंभीगानेकामौकामिलरहाहै।