संवादसूत्र,नेरवा:चौपालउपमंडलमेंबेसहारापशुओंकीबढ़तीतादादहादसोंकाकारणबननेलगीहै।स्वार्थपूर्तिकेबादकईलोगोंद्वारालावारिसछोड़दिएगएबेसहारापशुखानेकीतलाशमेंखेतोंमेंघुसकरफसलोंवसब्जियोंकोबर्बादकररहेहैं।गोसदनकेलिएउठीआवाजअनसुनीकिएजानेसेविकरालहोतीइससमस्यानेकिसानोंकीनींदउड़ादीहै।

व्यापारमंडलनेरवाकेप्रधानराजीवभीखटा,उपप्रधानदिनेशअमरेट,कोषाध्यक्षअमनसूद,सचिवजगतचौहान,संदीपसूद,मोहम्मदनवाब,जगदीशगुप्ता,युवासमाजसेवीविशालसिंहचौहान,वरिठनागरिकदुलारामभिखटा,रविद्रचौहानबतातेहैंकितीनयाचारकीसंख्यामेंदिखनेवालेबेसहारापशुसैकड़ोंमेंनजरआनेलगेहैं।सरकारइनसेनिजातदिलानेकेलिएगोसदनबनानेकीबाततोलंबेसमयसेकररहीहैलेकिनअभीतककुछनहींहुआहै।नतीजतनइसकाखामियाजाआमलोगोंवकिसानोंकोभुगतनापड़रहाहै।

बेसहारापशुओंकेझुंडदिनमेंसड़कोंपरघूमतेहैंऔररातमेंखेतोंपरधावाबोलकरफसलचटकरजातेहैं।किसानोंकीमेहनतकोपलभरतबाहकरजातेहैं।लोगोंनेअपनीजरूरतकेलिएघरकेआसपासकीजमीनमेंसब्जियांलगानाशुरूकीहैं।रिहायशीइलाकोंमेंइनकीमौजूदगीसेलोगोंनेअबतोघरकेपासभीसब्जीउगानाबंदकरदीहै।

ग्रामीणववाहनचालकोंकाकहनाहैकिसड़कोंपरघूमतेयेबेसहारापशुवाहनचालकोंकेलिएभीसिरदर्दबनगएहैं।येएकाएकवाहनोंकेसामनेआजातेहैं।इससेकईबारवाहनअनियंत्रितहोकरयाहादसेकाशिकारहोजाताहै।दोपहियावाहनचालकइससेसबसेज्यादाप्रभावितहोरहेहैं।ग्रामीणबतातेहैंकिराहगीरोंकोबेसहारापशुमारनेकोदौड़तेहैं।ऐसेकईमामलेसामनेआचुकेहैं।उन्होंनेस्थानीयप्रशासनवसरकारसेगुहारलगाईहैकिउन्हेंजल्दबेसहारापशुओंसेनिजातदिलाईजाए।

By Evans