भारतऔरचीनकेबीचएलएसीपरतनावकेदौरानपिछलेसालमुंबईकेबिजलीप्लांटमेंसाइबरसेंधमारीसंबंधीरिपोर्टकोबीजिंगनेखारिजकरदियाहै.चीनीदूतावासनेएकबयानजारीकरकहा-“इससंबंधमेंलगाएजारहेआरोपकोरीअफवाहऔरअटकलबाज़ीहैं.साइबरहमलेबेहदजटिलऔरसंवेदनशीलमामलाहैं.उनकेउत्सकोआसानीसेपकड़नामुमकिननहींहै.कल्पनाऔरकयासोंकाइसमेंकोईस्थाननहींहै.ऐसेमेंकिसीएकपक्षपरआरोपलगानाबहुतगैरजिम्मेदारीवालाहैजबकिकोईसबूतनहों.चीनऐसेकिसीभीगैर-जिम्मेदारानाऔरबदनीयतीसेउठाएजानेवालेकदमकेखिलाफहै.”

साइबरहमलेकोचीननेबतायाअफवाह

साइबरहमलेसेसंबंधितखबरेंहटानेकीमांग

साइबरकेकथितहमलेकेआरोपपरचीनीदूतावासनेकहा-हमसायबरसुरक्षामुद्देकेराजनीतिकइस्तेमालऔरआरोप-प्रत्यारोपकेलिएप्रयोगकेखिलाफहैं.इससेहैकिंगकेमुद्दोंकासमाधानअधिकमुश्किलहोजाएगाक्योंकिइससेपारस्परिकविश्वासकमहीहोताहै.हमसंबंधितमीडियासंस्थानोंसेइनआधारहीन,भ्रामकसूचनावालीखबरोंकोहटानेकीमांगकरतेहैं.

साइबरसेंधमारीकोलेकरक्याथीरिपोर्ट?

अमेरिकाकीएककंपनीनेअपनेहालियाअध्ययनमेंदावाकियाहैकिभारतऔरचीनकेबीचसीमापरजारीतनावकेदौरानचीनसरकारसेजुड़ेहैकरोंकेएकसमूहने‘‘मालवेयर’’केजरिएभारतकेपावरग्रिडसिस्टमकोनिशानाबनाया.ऐसीआशंकाहैकिपिछलेसालमुंबईमेंबड़ेस्तरपरबिजलीआपूर्तिठपहोनेकेपीछेशायदयहीमुख्यकारणथा.

अमेरिकामेंमैसाचुसेट्सकीकंपनी‘रिकॉर्डेडफ्यूचर’नेअपनीहालियारिपोर्टमेंचीनकेसमूह‘रेडइको’द्वाराभारतीयऊर्जाक्षेत्रकोनिशानाबनाएजानेकाजिक्रकियाहै.पिछलेसाल12अक्टूबरकोमुंबईमेंएकग्रिडठपहोनेसेबिजलीगुलहोगईथी.इससेट्रेनेंभीरास्तेंमेंहीरूकगयीऔरमहामारीकेकारणघरसेकामरहेलोगोंकाकार्यभीप्रभावितहुआऔरआर्थिकगतिविधियोंपरभारीअसरपड़ा.आवश्यकसेवाओंकेलिएबिजलीआपूर्तिबहालमेंदोघंटेलगगएथे।महाराष्ट्रकेमुख्यमंत्रीउद्धवठाकरेनेघटनाकीजांचकाआदेशदियाथा.

‘न्यूयॉर्कटाइम्स’नेएकखबरमेंकहाकिइसखुलासेसेसवालउठाहैकिमुंबईमेंबिजलीगुलकेपीछेकहींबीजिंगयहसंदेशतोनहींदेनाचाहताथाकिअगरभारतनेसीमापरआक्रामकव्यवहारजारीरखातोक्याहोसकताहै.‘रिकॉर्डेडफ्यूचर’कीरिपोर्टमेंयहभीआरोपलगायागयाकिकथितरूपसेभारतप्रायोजितसमूह‘साइडविंडर’ने2020मेंचीनीसेनाऔरसरकारीप्रतिष्ठानोंकोनिशानाबताया.

By Duffy