देशमेंआवाराजानवरों(HomelessPets)कीसंख्यालगातारबढ़रहीहै।यहचिंताकाविषयहै।आवारापशुओंकेलिएकामकरनेवालेसंगठनोंकाकहनाहैकिदेशमेंप्रति100व्यक्तिकमसेकमतीनआवाराजानवरहैं।

भारतमेंकरीब6.2करोड़आवाराकुत्तेऔर91लाखआवाराबिल्लियांहैं।‘दस्टेटऑफपेटहोमलेसनेसइंडेक्सडेटाफॉरइंडिया'कीएकरिपोर्टमेंयहजानकारीसामनेआईहै।इसरिपोर्टकेमुताबिक

देशकी77प्रतिशतआबादीकाकहनाहैकिवेहफ्तेमेंकमसेकमएकबारआवाराकुत्तेकोदेखतेहैं।रिपोर्टकेआंकड़ोंनेआवारापशुओंकीबढ़तीआबादीकाभीखुलासाकिया,जोदेशके‘ऑलपेट्सवांटेड'केस्कोरमेंनीचेहै।ऑलपेट्सकेयरस्कोरमेंभारतने10अंकोंकेपैमानेपर2.4अंकहासिलकिए।

-लगभग68प्रतिशत(10मेंसे7)आबादीकाकहनाहैकिवेसप्ताहमेंकमसेकमएकबारएकआवाराबिल्लीदेखतेहैं।

-लगभग77प्रतिशत(10में8)काकहनाहैकिवेहफ्तेमेंकमसेकमएकबारएकआवाराकुत्तेकोदेखतेहैं।

-देशमेंलगभग8करोड़आवाराबिल्लियांऔरकुत्तेहैं,जिनमें6.2करोड़आवाराकुत्तेऔर91लाखआवाराबिल्लियांशामिलहैं।

-शेल्टरहोममें88लाखआवाराकुत्तेऔरबिल्लियांहैं।भारतमें85प्रतिशतपालतूपशुआवाराहैं।

-देशमें61प्रतिशतलोगजानवरोंकेडॉक्टरोंकेपासनहींजाते।इसकेपीछेदूरी,प्रतिष्ठायासुविधाओंकीकमीमुख्यकारणहै।लेकिनइसवजहसेऑलपेट्सकेयरफॉरस्कोरनीचेहोताहै।

-दुनियाभरमेंइसतरहकीसमस्या31प्रतिशतलोगोंकोहै।

-भारतमेंहर100लोगोंपरकमसेकमतीनआवाराकुत्तेहैं।

By Dyer