नयीदिल्ली,12जून(भाषा)कोरोनावायरसमहामारीफैलनेकेबादसेभारतमेंपहलीबारएकदिनमेंसंक्रमणके10,000सेअधिकनयेमामलेसामनेआयेहैं,जिसकेसाथहीदेशभरमेंसंक्रमितलोगोंकाआंकड़ातीनलाखकेपारचलागया।पिछलेदसदिनकेभीतरहीएकलाखमामलेसामनेआनेकेमद्देनजरसरकारनेमहामारीकीरोकथामकेलिएसख्तउपायअपनानेकीजरूरतपरजोरदिया।वहीं,केंद्रनेशुक्रवारकोराज्योंसेकोविड-19केउभरतेकेंद्रों(अत्यधिकमामलोंवालेनयेस्थानों)परविशेषध्यानदेनेऔरकोरोनावायरससंक्रमणरोकनेकेलिएसख्तकदमउठानेकोकहा।कोरोनावायरसकेमद्देनजरलागूलॉकडाउनसेदेशकेधीरे-धीरेबाहरआनेकेबीचप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीअगलेसप्ताहराज्योंकेमुख्यमंत्रियोंकेसाथएकबारफिरविचार-विमर्शकरेंगे।यहबैठकऐसेसमयमेंहोनेजारहीहैजबदेशमेंकोरोनावायरससंक्रमणकेमामलेबढ़रहेहैं।कोविड-19केबीच‘अनलॉक-1’केदौरानआमलोगोंऔरकारोबारियोंकोकईतरहकीछूटदीगईहैताकिलॉकडाउनसेप्रभावितआर्थिकगतिविधियोंकोगतिमिलसके।सूत्रोंनेबतायाकिप्रधानमंत्रीवीडियोकॉन्फ्रेंसकेजरियेमुख्यमंत्रियोंकेसाथ16और17जूनकोसंवादकरेंगे।‘वर्ल्डोमीटर’केमुताबिककोरोनावायरसकेमामलोंकेलिहाजसेबृहस्पतिवारकोभारतब्रिटेनकोपीछेछोड़दुनियाकाचौथासबसेअधिकप्रभावितदेशबनगया।भारतमेंकोरोनावायरसकासबसेपहलामामला30जनवरीकोसामनेआयाथा,जिसकेबादसंक्रमितोंकीसंख्याएकलाखतकपहुंचनेमें100दिनसेअधिककासमयलगालेकिनदोजूनतकआंकड़ादोलाखतकपहुंचगया।चीनमेंपिछलेदिसंबरमेंसंक्रमणसामनेआनेकेबादसेअबतकपूरीदुनियामें75लाखसेअधिकलोगसंक्रमितहुएहैं,जिसमेंसेचारलाखसेअधिकमरीजोंकीमौतहोचुकीहै।केंद्रीयस्वास्थ्यमंत्रालयकेमुताबिक,शुक्रवारसुबहआठबजेतक(इससे24घंटेपहलेसे)संक्रमणके10,956मामलेसामनेआनेकेसाथदेशमेंकोविड-19केकुलमामलेबढ़कर2,97,535पहुंचगयेहैं।वहीं,इसमहामारीसेएकदिनमेंसर्वाधिक396लोगोंकीमौतहोनेकेसाथकुलमृतकसंख्याबढ़कर8,498होगईहै।हालांकि,राज्यऔरकेंद्रशासितप्रदेशोंकीओरसेशुक्रवाररात10:15बजेतकघोषितआंकड़ोंकेमुताबिक,देशभरमेंसंक्रमणकेकुलमामलेबढ़कर3,00,519तकपहुंचगएजबकिमृतकोंकीसंख्या8,872होगई।साथहीइनमेंसे1.52लाखमरीजस्वस्थहुएहैं।मंत्रालयनेकहाकिकोरोनावायरससंक्रमणकेमामलोंकेदोगुनाहोनेमेंलगनेवालासमयबढ़करअब17.4होगयाहै,जोकुछहफ्तेपहले15.4दिनथा।मंत्रालयनेकहाकिलॉकडाउनलागूकियेजानेकेसमय,25मार्चकोकोविड-19मामलोंकेदोगुनाहोनेमेंलगनेवालासमय3.4दिनथा।दिल्लीउच्चन्यायालयनेशुक्रवारकोकहाकिलॉकडाउनकोचरणबद्धतरीकेसेखोलेजानेसंबंधीकेन्द्रसरकारकाफैसलाजल्दबाजीमेंनहींलियागयाथाऔरऐसाकोविड-19महामारीकोफैलनेसेरोकनेऔरलोगोंकोभूखसेबचानेकेप्रयासमेंसंतुलनकायमकरनेकेलिएकियागयाथा।अदालतनेकानूनकेएकछात्रकीजनहितयाचिकाकोखारिजकरतेहुएउसपर20हजाररुपयेकाहर्जानालगाया।इसछात्रनेकेन्द्रके30मईकेआदेशकोचुनौतीथी।केन्द्रनेआदेशदियाथाकिनिषिद्धक्षेत्रोंमेंलॉकडाउनकोबढ़ायाजारहाहैऔरनिषिद्धक्षेत्रोंकेबाहरचरणबद्धतरीकेसेगतिविधियोंकोफिरसेखोलाजायेगा।वहीं,दिल्लीमेंकोविड-19केलियेनिर्दिष्टलोकनायकजयप्रकाशनारायणअस्पतालमेंकोरोनावायरसकेमरीजोंकेबगलमेंशवरखेहोनेके‘लोमहर्षक’दृश्योंकोगंभीरतासेलेतेहुयेउच्चतमन्यायालयनेशुक्रवारकोसख्तलहजेमेंकहाकियहसरकारीअस्पतालोंकीदयनीयहालतबयांकररहेहैं।शीर्षअदालतनेदिल्ली,महाराष्ट्र,तमिलनाडु,पश्चिमबंगालऔरगुजरातकेमुख्यसचिवोंकोतत्कालसुधारात्मककार्रवाईकरनेऔरअस्पतालोंमेंमरीजोंकीदेखभालकाप्रबंधदुरूस्तकरनेकानिर्देशदिया।न्यायमूर्तिअशोकभूषण,न्यायमूर्तिसंजयकिशनकौलऔरन्यायमूर्तिएमआरशाहकीपीठनेवीडियोकांफ्रेन्सकेमाध्यमसेइसमामलेकीसुनवाईकरतेहुयेकेन्द्रऔरचारराज्योंकोनोटिसजारीकिये।पीठनेटिप्पणीकीकिदिल्लीकेअलावाइनराज्योंकेअस्पतालोंमेंभीकोरोनावायरससेसंक्रमितमरीजोंकेउपचारऔरशवोंकेमामलेमेंस्थितिबहुतहीशोचनीयहै।कोविड-19सेसंक्रमितव्यक्तियोंकेशवोंकेमामलेमेंन्यायालयनेकहाकिस्वास्थ्यमंत्रालयकेदिशानिर्देशोंकासहीतरीकेसेपालननहींहोरहाहैऔरअस्पतालशवोंकेप्रतिअपेक्षितसावधानीनहींबरतरहेहैं।न्यायालयनेकहा,‘‘मीडियाकीखबरोंकेअनुसार,मरीजोंकेपरिजनोंकोमरीजकीमृत्युकेबारेमेंकईकईदिनतकजानकारीनहींदीजारहीहै।यहभीहमारेसंज्ञानमेंलायागयाहैकिशवोंकेअंतिमसंस्कारकेसमयऔरअन्यविवरणसेभीमृतककेनिकटपरिजनोंकोअवगतनहींकरायाजारहाहै।इसवजहसेमरीजोंकेपरिजनअंतिमबारनतोशवदेखपारहेहैंऔरनहीअंतिमसंस्कारमेंशामिलहोपारहेहैं।’’पीठनेकहाकिदिल्लीसरकारकीड्यूटीनागरिकोंकोयहसूचितकरनेपरखत्मनहींहोजातीकिउसनेसरकारीअस्पतालोंमें5,814बिस्तरोंकीव्यवस्थाकीहैऔरनिजीअस्पतालोंकोमिलाकरकुल9,535बिस्तरहैं।मरीजोंकीठीकसेदेखभालनहींहोने,शवोंकोठीकसेनहींरखनेऔरकोविड-19केमरीजोंकीकमजांचजैसेसवालउठातेहुयेन्यायालयनेकहाकिमीडियाकीखबरोंकेमाध्यमसेयेसारेतथ्यउसकेसामनेलायेगयेहैंजिनसेसाफपताचलताहैकिदिल्लीऔरदूसरेराज्योंकेसरकारीअस्पतातोंमेंकोविड-19केमरीजोंकीस्थितिदयनीयहै।इसबीच,कोविड-19महामारीकेखिलाफजंगलड़रहेचिकित्सकोंकोवेतनकाभुगताननहींकरनेऔरउनकेरहनेकीसमुचितव्यवस्थानहीहोनेपरकड़ारूखअपनातेहुयेउच्चतमन्यायालयनेशुक्रवारकोकहा,‘‘युद्धकेदौरानआपसैनिकोंकोनाराजमतकीजिये।थोड़ाआगेबढ़करउनकीशिकायतोंकेसमाधानकेलियेकुछअतिरिक्तधनकाबंदोबस्तकीजिये।’’न्यायालयनेकहाकिस्वास्थ्यकर्मियोंकेवेतनकाभुगताननहींहोनेजैसेमामलोंमेंअदालतोंकोशामिलनहींकरनाचाहिएऔरसरकारकोहीइसेहलकरनाचाहिए।न्यायमूर्तिअशोकभूषण,न्यायमूर्तिसंजयकिशनकौलऔरन्यायमूर्तिएमआरशाहकीपीठनेवीडियोकॉन्फ्रेन्सिंगकेजरियेडॉक्टरोंकीसमस्याओंकोलेकरदायरयाचिकापरसुनवाईकेदौरानयहटिप्पणीकी।पीठनेकहाकिइसतरहकीखबरेंआरहीहैंकिकईक्षेत्रोंमेंचिकित्सकोंकोवेतननहींदियाजारहाहै।उधर,राष्ट्रीयराजधानीमेंकोरोनावायरसकेबढ़तेमामलोंकेबीचदिल्लीकेउपराज्यपालअनिलबैजलनेराष्ट्रीयराजधानीमेंकोविड-19महामारीसेप्रभावशालीतरीकेसेनिपटनेकेवास्तेसुझावदेनेकेलिएएकउच्चस्तरीयसमितिकाशुक्रवारकोगठनकिया।इसमेंभारतीयआयुर्विज्ञानअनुसंधानपरिषद(आईसीएमआर)केमहानिदेशकबलरामभार्गवकोभीशामिलकियागयाहै।बैजलदिल्लीआपदाप्रबंधनप्राधिकरण(डीडीएमए)केअध्यक्षहैं।भार्गवकेअलावाइसछहसदस्यीयसमितिमेंराष्ट्रीयआपदाप्रबंधनप्राधिकरणकेसदस्यकृष्णवत्सऔरकमलकिशोर,अखिलभारतीयआयुर्विज्ञानसंस्थान(एम्स)केनिदेशकरणदीपगुलेरिया,डीजीएचएसकेअतिरिक्तडीडीजीडॉ.रवींद्रनऔरराष्ट्रीयरोगनियंत्रणकेन्द्रकेनिदेशकसुरजीतकुमारसिंहशामिलहैं।वहीं,शुक्रवारसुबहआठबजेतक(इसकेपहलेके24घंटेकेदौरान)हुई396मौतोंमें152मौतेंमहाराष्ट्रमें,दिल्लीमें101,गुजरातमें38,उत्तरप्रदेशमें24,तमिलनाडुमें23,हरियाणामें12औरपश्चिमबंगालमेंएकमरीजकीमौतहुई।वहीं,इसअवधिमेंतेलंगानामेंनौ,राजस्थान(6),मध्यप्रदेशऔरपंजाबमेंचार-चार,बिहारऔरकर्नाटकमेंतीन-तीन,आंध्रप्रदेश,असमऔरपुडुचेरीमेंदो-दोतथाजम्मूकश्मीरमेंएकमरीजकीमौतहुई।

By Duncan