मुरादाबाद,जेएनएन। BharatRakshaParv:दैनिकजागरणकेअभियानभारतरक्षापर्वमेंलोगउल्लासकेसाथभागीदारीकररहेहैं।पिछले16सालसेइसअभियानकेतहतदेशभरकीबहनेंसीमापरतैनातसैनिकोंकोराखियांभेजतीआईंहैं।गतवर्षसैनिकोंकेसाथहीकोरोनायोद्धाओंकोइसअभियानमेंभीशामिलकियागयाहै।इसबारउनविज्ञानियोंकोभीशामिलकियागयाहै,जोदेशवासियोंकोमहामारीकेप्रकोपसेबचानेकीदशामेंप्रयासरतहै।इनकोरोनायोद्धाओंकोडिजिटलरक्षासूत्रप्रदानकिएजारहेहैं।यहवैज्ञानिकों,चिकित्सकों,स्वास्थ्यकर्मियों,सैन्यकर्मियोंवपुलिसकर्मियोंकेसेवाभाववसमपर्णकेप्रतिआभारजतानेकाएकमाध्यमहै।

शहरकेआर्यन्सइंटरनेशनलस्कूलकीओरसेप्रबंधनऔरछात्राओंनेदैनिकजागरणकोरक्षासूत्रकापैकेटसौंपा।इसमेंप्रधानाचार्यहेमंतकुमारझा,डॉमंजूसिंह,शालिनीशर्मा,शालिनीअरोरा,शुभांशुमित्तल,अकुलसिंहचौहान,गुंजनओझासमेतछात्र-छात्राएंशामिलरहीं।गाेल्डनगेटग्लोबलस्कूलकेछात्र-छात्राओंनेदेशकीसुरक्षा,कोरोनासेसुरक्षादेनेवालेकोरोनावारियर्सकेलिएरक्षासूत्रसौंपा।इसमेंप्रधानाचार्यडा.सचिनघावरीनेभारतकेजवानोंकोरक्षाबंधनकीबधाईदेतेहुएकहाकिप्रकृतिकाप्रकोपसहतेहुएवअपनोसेदूरदेशकीसुरक्षाउनकाकर्म,धर्मऔरजुनूनहै।इनजवानोंकेकारणहीहमअपनेघरोंमेंसुरक्षितचेनकीनींदसोतेहैं।

भारतकेजवानोंकोसम्मानपूर्ण,भावपूर्णनमनकरतेहैं।सेंटमीराअकादमीमेंबोयेजानेवालेबीजोंसेनिर्मितरक्षासूत्रोंकोबांधनेकेबादपुन:उपयोगकियाजासकताहै।विद्यालयकीछात्राओंनेउनबीजोंसेरक्षासूत्रतैयारकियाहै।जिसेखराबहोनेपरजमीनमेंदबानेपरपौधेउगआएंगे।इसमेंछात्रापलक,पूर्वी,तान्या,प्राची,वंशिका,तृषा,प्रेरणा,तनिषा,कनिका,अपर्णा,खुशबू,दिव्यांशी,गरिमा,महिमा,अंशू,काजल,निकिता,हर्षिका,जाह्वीआदि।वित्तनिर्देशिकापर्णिकाप्रकाशनेसंबोधनमेंकहावीरसपूतोंकेबलपरहमअपनेघरोंमेंसुरक्षितहैं।मांभारतीकाशीषगर्वसेविश्वभरमेंजगमगारहाहै।हमसदाइनवीरसपूतोंकेऋणीरहेंगे।प्रधानाचार्यपारुलअग्रवाल,उपप्रधानाचार्यश्वेतासेठी,निपुरवर्मा,तनुगुप्ता,स्तुतिरस्तोगी,शीनमखानआदिकासहयोगरहा।

By Ellis