जागरणसंवाददाता,खगड़िया:घर-घरमेंभैयादूजकापावनपर्वश्रद्धाऔरउल्लासकेसाथमनायागया।इसबारयहपर्वअनुराधानक्षत्रवशोभनयोगमेंआया।जिसेसर्वाेत्तममानाजाताहै।भैयादूजकोलेकरभाइयोंनेअपनीबहनोंकेघरजाकरतिलककरवायाऔरबहनोंनेअपनेभाइयोंकीसलामतीवलंबीउम्रकीकामनाकी।सन्हौलीदुर्गास्थानकेपुरोहितबोलबमठाकुरनेबतायाकिभैयादूजपर्वपरबहनेंअपनेभाईकोतिलककरतीहैं।उनकीलंबीउम्रकीकामनाकरतीहैं।उन्होंनेकहाकिरक्षाबंधनकेबादभैयादूजकोभाई-बहनकेप्रेमकासबसेबड़ात्योहारमानाजाताहै।

क्याबोलींबहना

भैयादूजपरबहनअपनेभाईकीलंबीउम्रकीकामनाकरतीहै।इसदिनभाईकहींभीरहतेहोंबहनकेघरजरूरआतेहैंऔरबहनतिलकलगाकरभाईकेअक्षयहोनेकायमसेवरदानमांगतीहैं।मैंनेभीअपनेभाइयोंकेलिएरक्षाकावरदानयमदेवतासेमांगाहै।

निशाकुमारी,गुलाबनगर,खगड़िया

वर्षोंसेचलीआरहीपरंपराअगरआजभीकहींनिभायाजाताहैतोवहहमारादेशहै।आजभीसैकड़ोंकोसदूररहनेवालाभाईभैयादूजपरअपनेबहनकेयहांपहुंचतेहैं।पल्लवीसिंह,ठुठीमोहनपुर,चौथम

भैयादूजपर्वभाईबहनकेअनमोलरिश्तोंकीमजबूतकड़ीहै।इसदिनबहनभाईकोतिलकलगाकरयमकेप्रकोपसेमुक्तकरदेतीहै।

गुंजासिंह,रांको,खगड़िया

दीपावलीऔरछठकेमौकेपरलोगअपनेघरआतेहैं।ठीकदीपावलीकेदोदिनोंकेबादभैयादूजहोनेसेइसकामहत्वऔरबढ़जाताहै।मैंनेभीईश्वरसेभाईकेउज्ज्वलभविष्यऔररक्षाकावरदानमांगाहै।

रजनीकुमारीनेहा,जयप्रकाशनगर,खगड़िया

By Duffy