सिद्धार्थनगर:विकासखंडभनवापुरमेंकईगांवोंमेंचेचककाप्रकोपचरमपरहै।एककेबादएककरलोगइसकेचपेटमेंआरहेहैं।विभागमौनधारणकियेबैठेहुएहै।उन्हेंकुछपतानहींहै।पूछनेपरदोटूकजवाबमिलाकिमौसमबदलरहाहैतोऐसाहोनास्वभाविकहै।यहीनहींसैकड़ोंलोगोंकेबीमारहोनेकेबादभीअबतकगांवोंमेंटीकाकरणशुरूनहींकिया।

क्षेत्रकेलगभगकईगांवोंकेबच्चेचेचकसेपीड़ितहैं।इनकीसंख्यालगातारबढ़रहीहै।विकासखंडभनवापुरकेहतपरा,गड़ावर,सुकालाजोत,खरैली,बुढ़ऊ,साहेपारा,दुफेड़ियाआदिगांवोंमेंचेचककाप्रकोपफैलाहुआहै।अबतककिसीभीगांवमेंनतोचिकित्सकीयटीमपहुंचीऔरनहीचिकित्सकराजेशकुमार,पुजारी,आज्ञाराम,दिनेशश्रीवास्तव,राजन,रामबरननेबतायाकिगांवमेंपिछलेमाहसेचेचककेप्रकोपसेग्रामीणदहशतमेंहैं।ग्रामीणोंकेअनुसारशुरुआतमेंलोगोंकोबुखारहोरहाहै।बुखारमेंछोटेऔरबड़ेदानेपूरेशरीरमेंनिकलजारहेहैं।इससेघबराहट,बेचैनीहोनेलगतीहै।वहींदेवीकृपामानकरग्रामीणोंद्वारातरह-तरहकेटोटकेकासहाराभीलेरहेहैं।भनवापुरपीएचसीअधीक्षकडा.शैलेंद्रमणिओझानेकहाशीघ्रप्रभावितगांवमेंटीमभेजीजाएगी।

By Doyle