भवाली,संवादसहयोगी:बेजुबानोंकेप्रतिप्रेमऔरहमदर्दीसीखनीहोतोभवालीकीनन्दिताइसकाजीताजागताउदाहरणहै।पिछलेआठसालोंसेलगातारवहभवालीमेंआवाराकुत्तोंकोखानाखिलारहीहैं।वहहररोजसुबह6:30बजेसेअपनीगाड़ीमेंकुत्तोंकेलिएखानालेकरनगरकीओरआतीहैंऔरअलग-अलगजगहोंपरउन्हेंखानाखिलातीहैं।खासबातयहहैकिवहइसमेंकिसीकासहारानहींलेतीं।उनकेभोजनकाइंतजामवहअपनेस्तरपरहीकरतीहैं।वहींनगरकेआवाराकुत्तेभीनन्दिताकीगाड़ीकोपहचानतेहैं।वहगाड़ीकोदेखतेहीउनकीओरदौड़ेचलेआतेहैं।

नन्दिताप्रसादनेबतायाकिवहरिटायरमेंटकेबादवर्ष2012मेंभवालीकेश्यामखेतमेंरहनेलगीं।उन्हेंबचपनसेहीकुत्तोंसेलगावहै।जिसकेचलतेवहजहाँकहीभीपोस्टेडरहींवहआवाराकुत्तोंकीमददकरतीरहीं।कहतीहैंकिकईलोगकुत्तोंकेबूढ़ेहोजानेवफीमेलडॉग्सकोबाजारमेंछोड़देतेहैं।वहयहनहींसोचतेकिवहबेजुबानबिनाबोलेकिसतरहअपनापेटभरेगा।जिसकारणवहइनडॉग्सकोखानादेनेकेसाथउन्हेंअडॉप्टभीकरवातीहैं।समयसमयपरउनडॉग्सकाबधियाकरणभीकरातीहैं।जिससेउनकीतादातकमहोसके।

नन्दितारोजानासुबह4:30बजेउठकरइनकुत्तोंकेलिएभोजनतैयारकरनेमेंजुटजातीहैं।6:30बजेखानातैयारकरअपनीकारसेइन्हेंखानादेनेनिकलपड़तीहैं।रोजानावहकरीबनगरके170से180आवाराकुत्तोंकोखानादेतीहैं।वहींवहअबतक39स्ट्रीटडॉग्सकीसर्जरीकराकरउन्हेंघरभीदिलाचुकीहैं।उन्होंनेघरमेंचारस्ट्रीटडॉग्सभीपालेहैं।इसकेअलावाउन्होंनेवर्ष2008में150वइसवर्षसरकारकेसाथ129कुत्तोंकाबधियाकरणभीकरायाहै।

पेडिग्रीडॉग्ससेअधिकवफादारहोतेहैंस्ट्रीटडॉग्स

नन्दिताबतातीहैंकियदिइनस्ट्रीटडॉग्सकोलोगअपनेघरोंमेंपालेतोवहपेडिग्रीडॉग्ससेज्यादावफादारहोतेहैं।घरकीदेखरेखभीअच्छीसेकरतेहैं।इसलिएलोगोंकोपेडिग्रीडॉग्सकेसाथस्ट्रीटडॉग्सभीपालनेचाहिए।इससेसड़कोंपरइनकीसंख्याकमहोगीऔरइन्हेंघरभीमिलजाएगा।

By Farmer