जेएनएन,बुलंदशहर।अनूपशहरस्थितहर-हरमहादेवमंदिरअपनीसुंदरतावआस्थाकेलिएदूरतकप्रसिद्धहै।इसमंदिरकोदेखनेकेलिएश्रद्धालुआतेरहतेहैं।मंदिरमेंस्थापितपांचफीटऊंचेशिवलिगकोदेखकरहरभक्तकेमुंहसेवाहनिकलनाकोईअचम्भेकीबातनहींहै।निकटमेंहीकल-कलबहतीमांगंगाकीधाराआस्थाकीधराकोरमणीकबनारहीहै।

अनूपशहरकोप्राचीनकालसेहीधर्मनगरीहोनेकेकारणछोटीकाशीकेनामसेपुकाराजाताहै।नामकेअनुरूपनगरमेंकोईदेवस्थलनहोनेकीकमीकोमहसूसकरतेहुएदेशकेजानेमानेउद्योगपतिजयप्रकाशगौड़नेकईवर्षपूर्वघोषणाकीथी,किवेऐसामंदिरबनायेंगे,जिसकासानीदूरतकनहो।दोवर्षसेअधिकसमयमें15बीघाभूमिमेंहर-हरमहादेवमंदिरकोतैयारकियागया।मंदिरमेंपांचफीटकाभव्यशिवलिगजयपुरसेलाकरप्राणप्रतिष्ठाकराईगईहै।मंदिरकाविशालहालबनायागयाजिसमेंएकसाथकईसौश्रद्धालुबैठकरभजनकीर्तनयाधार्मिकआयोजनकरसकतेहैं।मंदिरपरिसरमेंश्रद्धालुओंकेलिएआधुनिकसुविधाएंमुहैयाकरायीगयीहैं।वैदिकरीतिमेंपारंगतपुरोहितद्वारापूजाकरायीजातीहै।नि:शुल्कपार्किंगकीव्यवस्थाहै।मंदिरपरिसरमेंसबसेअहमबातयहहै,किआस्थाकोध्यानमेंरखकरहिन्दूधर्मकेसभीप्रमुखइष्टदेवोंकीसुंदरमूर्तियांस्थापितकीगईहैैं,जिन्हेंउड़ीसाकेकटकसेमंगायागयाहै,बाहरीभागमेंनौदेवियोंकीमूर्तियांआकर्षितकरतीहैं।सुंदर-सुंदरफुलवारीकेबीचलॉनबनायेगयेहैं।

By Dunn