राज्यब्यूरो,कोलकाता:कोलकातासमेतपूरेबंगालमेंशनिवारकोधूमधामसेवीणावादिनीकीवंदनाहुई।सूबेमेंस्कूल-कालेज-विश्वविद्यालयखुलचुकेहैंइसलिएछात्र-छात्राओंमेंइससालसरस्वतीपूजाकोलेकरभारीउत्साहदेखागया,हालांकिकोरोनामहामारीकेकारणबहुतसेस्कूलोंमेंछोटेपैमानेपरपूजाकाआयोजनकियागया।कुछस्कूलोंमेंछात्र-छात्राओंकोभीनहींबुलायागयाथा।इसदिनछात्रपीलेकुर्तेवछात्राएंपीलीसाड़ीमेंनजरआईं।दरअसलइसरंगकोशुभमानाजाताहै।

ज्ञानकीदेवीकोभीपीलेरंगकेफूलचढ़ाएजातेहैंऔरपीलीचीजोंकाहीभोगलगायाजाताहै।वसंतपंचमीपरज्ञानकीदेवीकीपलाशकेफूलऔरबेरसेपूजाकीगई।कहतेहैंइसदिनप्रसादमेंचढ़ाबेरखानेसेज्ञानअर्जितकरनेमेंआसानीहोतीहै।घरोंमेंहुईपूजामें'हाथेखोड़ी'काआयोजनकियागया।इसमेंपहलीबारबच्चाअपनेहाथमेंचाकयापेंसिलपकड़ताहैऔरपंडितजीयापरिवारकेबड़ेसदस्यउसकाहाथपकड़करस्लेटमेंलिखवातेहैं।देवीसरस्वतीकेसामनेउसकेशिक्षाअर्जनकीशुरुआतबहुतअहममानीजातीहै।इसीरीतिको'हाथेखोड़ी'कहतेहैं।

हावड़ाहिंदीहाईस्कूलमेंधूमधामसेहुईसरस्वतीपूजा

हावड़ाकेसबसेपुरानेवप्रतिष्ठितस्कूलोंमेंशामिलहावड़ाहिंदीहाईस्कूलमेंसरस्वतीपूजाकाधूमधामसेआयोजनहुआ।कोरोनामहामारीकोदेखतेहुएइसमेंशिक्षकवस्कूलकेगैर-शिक्षाकर्मीहीशामिलहुए।पूजाकेआयोजनमेंस्कूलकेसेकेंडरीवहायरसेकेंडरीसेक्शनकेप्रधानाध्यापकशिवकुमारचौमाल,प्राइमरीसेक्शनकेप्रधानाध्यापकरमेंद्रप्रसाद,शिक्षकवृंदएकेसिंह,दुर्गासोनकर,सूर्यनारायणतिवारी,प्रकाशकुमारओझा,आरपीसिंह,शशिकांतप्रसाद,रामविलासशर्मा,एसकेदुबे,एकेजायसवाल,एसकेराय,यशवंतयादव,शिक्षिकासुष्मिताभट्टाचार्य,हिनाकौसर,जोशिमाकेरकटावगैर-शिक्षाकर्मीबेचनयादवकीसक्रियभूमिकारही।हावड़ाहिंदीहाईस्कूल1958सेशिक्षाकाउजियाराबिखेरताआरहाहै।इसकेसेकेंडरीवहायरसेकेंडरीसेक्शनमेंकरीब1,400वप्राइमरीसेक्शनमें160विद्यार्थीहैं।