दरभंगा।जाकोराखोसाईयामारसकेनाकोई।इसमशहूरजुमलाकोलोगअक्सरअपनेबड़े-बुजुर्गोंकेमुंहसेसुनतेहैं।अर्थातजिस?दिनभगवानचाहतेहैंउसीदिनइंसानकोअपनेपासबुलातेहैं।अन्यथाकिसीकेजीवनकोकोईछीननहींसकताहै।इसतस्वीरकोदेखनेकेबादलोगोंकोभरोसानहींहैकिहादसेकेशिकारहुएयुवककीजानबचसकतीहै।लेकिन,उन्हेंएकखरोंचतकनहींआई।जी,हमबातकररहेहैंसदरथानाक्षेत्रस्थितदिल्लीमोड़फोरलेनकी।दरभंगासेमधुबनी-लौकहाजानेवालीबसबीआर6पीए6901कीचपेटमेंआनेसेएकअपाचीबाइकसवारयुवकगाड़ीकेसाथबसकेनीचेचलागया।²श्यकोदेखसभीकाकलेजाकांपगया।लेकिन,भगवानकीमहिमासेयुवकअचानकबाहरफेंकागया।आस-पासकेलोगोंनेउसेउठायाऔरपासकेएकनर्सिंगहोमभर्तीकराया।शुरूआतीसमयमेंबाइकचालकबदहवासथा।लेकिन,अस्पतालपहुंचतेहीवहभला-चंगादिखनेलगा।बावजूद,चिकित्सकनेउसेऔपचारिकरूपसेचेककरनेकेबादछुट्टीदेदिया।हालांकि,घटनामेंउसकीबाइकक्षतिग्रस्तहोगई।हादसेमेंबाल-बालबचायुवकदरभंगापब्लिकस्कूलके11वींकाछात्रथा।

By Douglas