संवादसहयोगीबिदकी:स्वास्थ्यसेवाओंकीपड़तालकरनेजिलेपहुंचे,निदेशकपरिवारकल्याणडॉ.बद्रीविशालनेसामुदायिकस्वास्थ्यकेंद्रमेंबड़ीखामियांपकड़ी।डॉक्टरोंकोकर्तव्यबोधकरानेकेसाथहीयहांपरसरकारीदवाओंकीबिक्रीखुलेबाजारमेंहोनेकीआशंकाजाहिरकी।दरअसलअस्पतालप्रशासननेबीतेकुछदिनोंमेंचारहजारबोतलभर्तीमरीजोंपरखर्चकिया,लेकिनइतनेसंख्यामेंमरीजभर्तीहोनेकेसबूतनहींमिले।जांचदौरानप्रभारीचिकित्साअधिकारीयहभीनहींबतासकेकियहग्लूकोजवइंजेक्शनकीआपूर्तिकिनमरीजोंपरखर्चकी।निदेशकनेयहांगड़बड़ीकीआशंकाजतातेहुएडीजीहेल्थ,स्वास्थ्यमंत्रीसिद्धार्थनाथसिंहकोरिपोर्टदेनेकोकहा।

बिदकीसीएचसीमेंकुलआठडॉक्टरतैनातहै,लेकिनपड़तालमेंपायागयाकियहांपरमात्रएकडाक्टरहीनिवासकरतेहैजबकिसातडाक्टरनियमितनतोआतेहैंऔरनहीसरकारीआवासमेंनिवासकरतेहैं।उन्होंनेकोमल,सीता,रामसुमेरनामकमरीजोंसेबातकी।पायागयाकिइनमरीजोंकीजांचेभीनिजीपैथालाजीसेकराईगयीहै,जबकिइन्हेंदवाएंबाहरसेलिखीगयी।जबकिजांचवदवाअस्पतालमेंमौजूदथी।अस्पतालकेहालातोंकोबदतरबतातेहुएउन्होंनेडीजीहेल्थडॉ.पदमाकरसिंहकोबताई।यहांपरगैरहाजिरपाएगएडॉ.पंकजवपीडीसिंहकेलिएसीएमओकोफोनकरकेबतायाऔरकहाकिऐसीलापरवाहीपरकार्रवाईसुनिश्चितकरें।उन्होंनेप्रभारीचिकित्साअधिकारीडॉ.सुनीलचौरसियासेकहाकिअस्पतालमेंजबहरतरहकीसुविधाऔरसेवामौजूदहैतोमरीजोंकोइसकालाभदियाजाए।सुधारकीचेतावनीदेतेहुएपाईगयीलापरवाहीपरकार्रवाईकरानेकीबातकही।