दरभंगा।चीनकीनीतिकोलेकरशुरूसेहीसवालउठतेरहेहैं।रह-रहकरचीनकीचालबाजीसामनेआतीरहीहै।एकबारफिरचीनकेकायरानाहरकतनेपूरेदेशमेंआक्रोशभरदियाहै।गलवनघाटीमेंहिसकझड़पमेंबीससेअधिकभारतीयजवानोंकेशहीदहोनेकेबाददेशभरमेंचीनकेप्रतिगुस्साहै।लोगचाहतेहैंकिकेंद्रसरकारचीनकोइसहरकतकाकराराजवाबदे।इसकेसाथहीलोगोंनेचीनीसामानोंकेबहिष्कारकाफैसलाभीकियाहै।लोगअबइसबातकोलेकरमनबनाचुकेहैंकिक्वालिटीभलेहीकमजोरमिलेपरदेसीहीचाहिए।चीनकेसाथभारतकेरिश्तेहमेशासेतल्खरहेहैं।वर्तमानहालातमेंचीनकेप्रतिभारतीयोंकेमनमेंआक्रोशकाफीबढ़चुकाहै।देशमेंजगह-जगहचीनकेखिलाफप्रदर्शनशुरूहोगएहैं।देशमेंचीनीराष्ट्रपतिकापुतलाजलायाजारहाहै।------------यहीसहीसमयहैचीनकोजवाबदेनेका।अभीपूरेविश्वमेंचीनकीकिरकिरीहोरहीहै।ऐसेमेंयदिभारतमेंदेसीसामानोंकीखरीदबढ़ेगीतोचीनीसामानस्वत:यहांकेबाजारसेबाहरहोतेजाएंगे।यहअबहोभीरहाहै।लोगचीनीसामानोंकाबहिष्कारकररहेहैं।देसीसामानोंकीखरीदभीबढ़रहीहै।आजभारतपूरेविश्वमेंएकबड़ाबाजारबनचुकाहै।यहचीनकेलिएभीबड़ाबाजारहै।चीनीसामानोंकीबड़ीमात्रामेंयहांखपतहोतीहै।इसेरोककरहमचीनकोआर्थिकमोर्चेपरपटकनीदेसकतेहैं।-प्रो.रतनकुमारचौधरी,डीएसडब्ल्यू,लनामिवि-----------चीनकीआर्थिकस्थितिकोमजबूतकरनेमेंभारतीयबाजारकाअहमयोगदानरहाहै।यदिचीनीसामानोंकाहमबहिष्कारकरतेहैंतोचीनकेलिएयहबड़ीआर्थिकचोटहोगी।हालांकि,अभीभीबाजारोंमेंचीनीसामानभरेपड़ेहैं।जिनदुकानदारोंकेपासचीनीसामानोंकीखेपहै,वेचाहेंगेकिकिसीतरहउनकामालबिकजाए,ताकिउन्हेंनुकसाननाउठानापड़े।यहभीजरूरीहैकिआमजनताकेसाथहीसरकारभीविभिन्नस्तरोंपरचीनकासहयोगलेनाबंदकरे।गलवनघाटीकीघटनाकेबादचीनीसामानोंकेबहिष्कारकाट्रेंडबढ़रहाहै,यहअच्छीबातहै।-डॉ.कुलानंदयादव,पूर्वपरीक्षानियंत्रक,लनामिवि--------------चीनीसामानोंसेभारतीयबाजारकोमुक्तकरनेकेलिएक्रमिकप्रयासकीजरुरतहै।एकतरफआमलोगचीनकेसामानोंकोखरीदनेसेपरहेजकरें,वहींदूसरीओरसरकारलघुवमध्यमस्तरकेउद्योगोंकोबढ़ावादे।इससेदेशमेंउत्पादनबढ़ानेकामाहौलतैयारहोगाजिससेहमचीनीसामानोंकीकमीकोबाजारमेंपूराकरसकेंगे।अगरजनतावसरकारकेस्तरपरसाथ-साथप्रयासकिएजाएंतोअगलेएक-दोसालोंमेंहमभारतीयबाजारोंकोचीनीसामानोंसेमुक्तकरनेमेंसफलहोसकतेहैं।-डॉ.गीतेंद्रठाकुर,चिकित्सापदाधिकारी,लनामिवि---------कोरोनाकालमेंचीनकीछविकोऔरधक्कालगाहै।पूराविश्वआजचीनकोअपने-अपनेस्तरसेकिनारेकरनेकीकोशिशोंमेंजुटाहै।लॉकडाउनकेदौरानहमारीअर्थव्यवस्थाभीस्थिरथी,लेकिनअनलॉकमेंयहएकबारफिरगतिशीलहोचुकीहैऔरइसकीरफ्तारतेजीसेबढ़रहीहै।ऐसेमेंयहबेहतरसमयहैजबहमचीनकोकराराजवाबदेसकतेहैं।आजसबसेजरूरीहैदेसीउत्पादोंकेउत्पादनकोबढ़ानेकीऔरलोगोंकोइसकेलिएजागरूककरनेकीताकिवेदेसीसामानोंकाअधिकउपभोगकरें।चीनकेलिएयहसैन्ययुद्धसेभीबड़ीचोटहोगी।-प्रो.एनकेअग्रवाल,गणितविभागाध्यक्ष,लनामिवि-------------

By Doyle