जागरणसंवाददाता,नूंह:

पुन्हानाउपमंडलकेप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रचिकित्सकोंकेअभावसेजूझरहेहैं।इससेमरीजोंकोभारीपरेशानियोंकासामनाकरनापड़रहाहै।पुन्हानाउपमंडलकेअंतर्गतसातप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्र(पीएचसी)मेंचिकित्सकोंवपैरामेडिकलस्टाफकाघोरअभावहै।सातपीएचसीमें175पदोंमेंसेकेवल25पदहीभरेहुएहैं।160पदरिक्तहोनेकीवजहसेमरीजोंकोसमयरहतेपर्याप्तसुविधाएंनहींमिलपाती।इसकेचलतेउन्हेंनिजीअस्पतालोंकारुखकरनापड़ताहै।

बतादें,किपीएचसीपुन्हाना,पिनगवां,¨सगार,तिगांव,जमालगढ़,बिछोरवशिकरावाऐसेपीएचसीहैंजिनमेंचिकित्सकोंवपैरामेडिकलस्टाफकाअभावहै।नूंहकायहउपमंडलराजस्थानसेसटेहुएहोनेकीवजहसेकईमरीजयहांकीपीएचसीकारुखकरतेहैंलेकिनचिकित्सकनहोनेकीवजहसेउन्हेंपरेशानहोनापड़ताहै।सातपीएचीसीमेंचिकित्सकोंकेकुल21पदस्वीकृतहैं,जिसमेंसे17भरेहुएहैंऔरतीनखालीहैं।

पीएचसीकेपदोंपरएकनजर:

फार्मासिस्टकेकुल9पदोंमेंसे4रिक्त,एमपीएचएसपुरुषकेकुल8पदोंमें6रिक्त,एमपीएचएसमहिलाकेकुल8पदोंमें7रिक्त,एमपीएचडब्लूपुरुषकेकुल27पदोंमेंसे25रिक्तहै,पीएचडब्लूमहिलाकेकुल27पदोंमें22रिक्त,लैबटेक्नीशियनकेकुल9पदोंमेंसे9रिक्त,चतुर्थश्रेणीके37पदोंमेंसे32रिक्त,स्टाफनर्सकुल22पदोंमेंसे22रिक्त,डेंटलअसिस्टेंटकुल7पदोंमेंसे6रिक्तपड़ेहैं।

निजीअस्पतालोंमेंजानेकोमरीजमजबूर:

प्रदेशसरकारनेक्षेत्रकेलोगोंकोमुफ्तवबेहतरस्वास्थ्यसेवाएंमुहैयाकरानेकेलिएपीएचसीबनाई।लेकिनयहांस्टाफकीकमीकोदूरकरनाभाजपासरकारभीभूलचुकीहै।सभीपीएचसीमेंस्टाफकीभारीकमीहै।ऐसेमेंयहांमरीजोंकोपर्याप्तसुविधाएंनहींमिलपारहीहै।इससेअबमरीजनिजीअस्पतालोंकीओररुखकरनेकोमजबूरहोरहेहैं।

पेयजलवशौचालयकीसुविधाएंमयस्सरनहीं:

उपमंडलकीसभीपीएचसीमेंमरीजोंकोपेयजलवशौचालयजैसीसुविधाएंमयस्सरनहींहै।मरीजपीएचसीमेंपानीखरीदकरअपनीप्यासबुझारहेहैं।वहींदूसरीओरकर्मचारीवडाक्टरभीपरेशानहैं।इसकेसाथ-साथपीएचसीमेंसफाईव्यवस्थाभीठपहै।

पीएचसीमेंबढ़रहीमरीजोंकीसंख्या:

बरसातकामौसमचलरहाहै।ऐसेमेंक्षेत्रमेंमलेरियाकेसाथ-साथमौसमीबीमारियोंकाप्रकोपहै।जिससेपीएचसीमेंमरीजोंकीसंख्याबढ़रहीहै।पीएचसीमेंतैनातकर्मचारियोंकीमानेंतोदौसौसेढाईसौमरीजपीएचसीमेंइलाजकेलिएप्रतिदिनआरहेहैं।लेकिनवहांभीपर्याप्तसुविधाएंनहींमिलपारहीहै।

मरीजोंकीसुनें:

पिनगवांपीएचसीमेंप्रसवकेवक्तकेवलएकनर्सरहतीहै।डॉक्टरतोरहताहीनहींहै।अगरकिसीकोप्रसवकेवक्तदिक्कतआजाएतोमरीजकी¨जदगीपरबनआतीहै।अगरमौकेपरएकडॉक्टरभीहोतोसमस्याकाफीहदतककमहोसकतीहै।

हमेंमजबूरीमेंपीएचसीमेंप्रसवकरानापड़ताहै।यहांनतोपूरास्टाफहोताहैऔरनहीदूसरीसुविधाएं।डाक्टरोंकीकमीकेकारणअगरकिसीकोदिक्कतआजाएतोउसेमांडीखेड़ाकेअलआफियाअस्पतालमेंयाफिर35किलोमीटरदूरनल्हड़मेडिकलकालेजभेजाजाताहै।इसबीचमरीज¨जदगीऔरमौतसेलड़तीहै।

बिस्मिल्ला,मरीज।

केवलएकहीहेल्परहैऔररोजानाकरीब8से10प्रसवहोतेहैं।जिससेपुन्हानाकेसामुदायिकस्वास्थ्यकेंद्रमेंएकमहीनेमेंकरीब200-250प्रसवहोतेहैं।जिससेस्टाफकीकमीकेकारणमरीजोंकोकवरकरपानाबहुतमुश्किलहोताहै।जिससेजच्चावबच्चाकोखतराबनारहताहै।

प्रमिलाचौधरी,प्रसवहटइंचार्ज,पिनगवां।

समय-समयपरस्टाफकीकमीकेलिएउच्चअधिकारियोंकोलिखितमेंभेजाहै।स्टाफकीकमीसेसारेकार्यअधूरेपड़ेहैं।उच्चअधिकारियोंकीतरफसेआश्वासनमिलाहैकिजल्दहीस्टाफकीकमीकोपूराकियाजाएगा।

डॉ.श्रीरामसिवाच,सिविलसर्जननूंह।

By Evans