मुरादाबाद,जेएनएन।चक्करकीमिलककाफरमानपेंटरहै।दोमहीनापहलेहीकोरोनासंक्रमणकेबीचईदकीखुशियांमनानेकेलिएपैसाकमानेदिल्लीगयाथा।उसकीटीममेंंतीनसाथीऔरथे।सोचाथाकोठियोंकीपुताईकाकाममिलेगा।ईदतकपैसाकमाकरघरलौटआएंगे।सीलमपुरमेंउन्होंनेअपनेरिश्तेदारकेमाध्यमसेकिराएपरकमरालेलियाथा।लेकिन,एकसप्ताहसेकामनहींमिला,जोकमायावहीखर्चहोनेलगा।कोरोनाकेबढ़तेसंक्रमणकीवजहदिल्लीकीहालतखराबहोनेपरवहअपनेसाथियोंकेसाथघरलौटआया।

उत्तराखंडसेभीमुरादाबादकागहरानाताहै।यहांसेतमाममजदूरउधमसिंहनगरकीफैक्ट्रियोंमेंकामकरनेकेलिएजातेहैं।सम्भलरोडकेजटपुरागांवकामहीपालसिंहउधमसिंहनगरमेंकामकरनेगयाथा।मधुपुरीगांवकेभीकईलोगउसकेसाथकामकरतेथे।वहांभीकामबंदहोरहाहै।इसकीवजहसेवहघरलौटआएहैं।दिनभरकाशीपुरबसअड्डेपरश्रमिकोंकेआनेकासिलसिलाजारीरहा।कोरोनाकेखौफकीवजहसेमजदूरबसोंसेअपनेघरलौटआए।दिल्लीमेंलाकडाउनकीघोषणाहोनेसेबादआनंदविहारबसअड्डेसेश्रमिकोंआरहेहैं।सभीकेचेहरोंपरमायूसीछाईहुईहै।

By Ellis