मुंबई,एएनआइ। दोभारतीयजोव्यापारिकउद्देश्योंकेलिएईरानगएथे,अबवहींफंसगएहैं।ईरानउनदेशोंमेंसेएकहीजोकोरोनासेसबसेज्यादाप्रभावितहैं।येदोनोंइसवजहसेवहांफंसगएहैंक्योंकिसभीनागरिकउड्डयनमार्गघातकवायरसकेप्रकोपकेमद्देनजरबंदकरदिएगएहैं।

मुंबईकेनिवासीअरविंदजाधवऔरवेदांतकदमईरानकीराजधानीतेहरानमेंफंसगएहैंऔरउन्होंनेभारतसरकारसेउन्हेंजल्दसेजल्दबचानेकाअनुरोधकियाहै।वेचिंतितहैंक्योंकितेहरानमेंसभीनागरिकउड्डयनमार्गोंकोबंदकरदियागयाहैऔरवेफंसगएहैं।

इतनाहीनहींजिसहोटलमेंवोदोनोंठहरेहुएहैंवोभीजल्दबंदकरनेकीयोजनाबनारहाहैं। क्योंकिइसके250कमरोंमेंसेकेवलआठहीबुकहुएहैं।हालांकि,अभीभीवेव्हाट्सएपपरअपनेपरिवारोंकेसंपर्कमेंहैंऔरभारतसरकारसेतुरंतमददकरनेकीअपीलकररहेहैं।देशकेस्वास्थ्यमंत्रीकेसलाहकारअलिर्ज़ावहाबज़ादेहनेकहा,"ईरानमेंदेशमेंकोरोनोवायरससेमरनेवालोंकीसंख्याबुधवारको 63होगईहै।इसीकेसाथवायरसकीचपेटमेंआनेवालोंकीसंख्या354पहुंचगईहै।

ईरानीअधिकारियोंनेइसवायरसकोऔरफैलनेसेरोकनेकेलिएकईकदमउठाएहैं,जिनमेंस्कूलोंऔरविश्वविद्यालयोंमेंकक्षाएंनिलंबितकरनाऔरसांस्कृतिकऔरखेलप्रतियोगिताओंकोस्थगितकरनाशामिलहै।बुधवारतकवैश्विकस्तरपरवायरसकेलगभग120,000मामलोंकीपुष्टिहुईहै।विश्वस्तरपरवायरसकेकारण4,300सेअधिक लोगोंकीजानजाचुकीहै।आपकोबतादेंकिदुनियाभरकेकरीब120सेअधिकदेशोंमेंकोरोनावायरससेलोगसंक्रमितहै।हालांकि,चीनसेशुरुहुईइसवायरसकाप्रकोपवहांकुछकमहोगयाहै।अमेरिकामेंभीधीरे-धीरेकईमामलेसामनेआएहैं।

By Edwards