नईदिल्ली[संजीवगुप्ता]। अनिलचौधरीनेजबसेप्रदेशकांग्रेसकीकमानसंभाली,तभीसेकोरोनासंक्रमणकादौरभीशुरूहोगया।इसबीचइधरपार्टीमेंबगावतकेसुरज्यादाहीतेजहोगएहैं।ज्यादातरनेतासंगठनमेंबदलावकारागअलापरहेहैं।उनकाकहनाहैकिअगरकिसीमजबूतनेताकोपार्टीकीबागडोरनहींसौंपीगईतोआगामीनिगमचुनावमेंबचाखुचाजनाधारभीजातारहेगा।ऐसेमेंअनिलचौधरीनेअबचायपॉलिटिक्सशुरूकीहै।उन्होंनेचायपीनेकेबहानेवरिष्ठोंकीनाराजगीदूरकरनेऔरमार्गदर्शनकेबहानेउनकाआशीर्वादलेनेकोकदमबढ़ाएहैं।इसदिशामेंउनकापहलापड़ावपूर्वसांसदऔरपूर्वप्रदेशअध्यक्षजयप्रकाशअग्रवालकानिवासरहा।हालहीमेंउन्होंनेपूर्वविधायकअनिलभारद्वाजऔरप्रदेशउपाध्यक्षमुदितअग्रवालकेसाथइनकेघरचायपी।अबआशीर्वादमिलायानहीं,यहतोभगवानहीजानें।

दिल्लीकेनेताओंकोभीराहुलकेबुलावेकाइंतजार

कईराज्योंमेंकांग्रेसकेसंगठनात्मकढांचेकाबंटाधारइसीलिएहुआक्योंकिपार्टीकेशीर्षनेतृत्वयानीराहुलगांधीनेवहांकेकद्दावरनेताओंकोमिलनेकासमयनहींदिया।इससेनाराजहोकरकुछवरिष्ठतोपार्टीहीछोड़गए।दिल्लीकेनेताभीइनदिनोंकमोबेशवैसीहीस्थितिमहसूसकररहेहैं।येनेताचाहतेहैंकिराहुलगांधीएकबैठककरदिल्लीकेहालातपरचर्चाकरेंऔरसुधारकीदिशामेंकुछनिर्णयलें।लेकिन,वहतोशायददिल्लीकीओरसेआंखेंमूंदकरहीबैठेहुएहैं।आलमयहहैकिदिल्लीप्रदेशकांग्रेसकमेटीकेअध्यक्षअनिलचौधरी(DelhiCongressPresidentAnilChaudhary)नेभीअपनेपांचोंउपाध्यक्षोंऔरकोरोनाकालमेंअच्छाकामकरनेवालेकुछनेताओंकेसाथउनसेमिलनेकासमयमांगाहुआहै,किन्तुलंबेसमयसेउनकेबुलावेकाहीइंतजारहोरहाहै।राहुलगांधीकीइसबेरुखीकेकारणभीदिल्लीकांग्रेसमेंचलाचलीकीबेलाथमनहींपारही।

By Dyer