आगरा,प्रभजोतकौर।डेंगूकेबढ़तेकेसआगरामेंअबतककोईघातकतेवरनहींदिखापाएहैं,लेकिनसंक्रमणफैलातोव्यवस्थाचरमरासकतीहै।पिछलेसालोंमेंडेंगूकेसंक्रमणकाकालअक्तूबररहाहै।वर्ष2016मेंसबसेज्यादाडेंगूके329केसमिलेथे।इससालडेंगूकेकेसअगस्तमेंहीबढ़नेशुरूहोगएहैं।अगलेदोमाहतकसंक्रमणबढ़नेकीआशंकाहै।बतादेंकिबुधवारसुबहतकस्वास्थ्यविभागकेअनुसारअबतक31मरीजडेंगूकेमिलचुकेहैं।सरकारीआंकड़ेतोसामनेआहीरहेहैं,लेकिननिजीअस्पतालोंमेंमिलेकईमरीजोंकीरिपोर्टसामनेनहींआई।

बीतेकुछवर्षमेंमिलेडेंगूकेमरीज

बुधवारकोफतेहपुरसीकरीक्षेत्रमेंडेंगूकाएकनयामरीजमिलाहै।इससेपहलेमंगलवारकोडेंगूके13नएमरीजमिलेथे,जिसमेंसेपांचआगराकेऔरआठफिरोजाबादकेहैं।डेंगूवार्डमेंकुल17मरीजभर्तीहैं,जिसमेंसे13मेडिसिनविभागमेंऔरचारबालरोगविभागमेंभर्तीहैं।छहमरीजमंगलवारकोडिस्चार्जहुए।

-अपनेआस-पासमच्छरोंकोनपनपनेदें।

-दरवाजोंवखिड़कियोंपरजालीलगवाएं।

-मच्छरदानीकानियमितप्रयोगकरें

-अनुपयोगीवस्तुओंमेंपानीइकट्ठानहोनेदें।

-पानीकीटंकीपूरीतरहसेढककररखदें।

-पूरीबाहकेकपड़ेपहनें।

-कूलर,गमलेआदिकोसप्ताहमेंएकबारखालीकरसुखाएं।

-गड्ढोंमेंजहांपानीइकट्ठाहो,उसेमिट्टीसेभरदें।

कैसेफैलताहैडेंगू

एकमच्छरजनितवायरलसंक्रमणहै।जिसमेंतेजबुखार,सिरदर्द,मांसपेशियोंएवंजोड़ोंमेंदर्द,त्वचापरचकत्तेआदिनिकलआतेहैं।यहमादाएडीजमच्छरकेकाटनेसेहोताहै।मादाएडीजएजिप्टमनुष्यमेंडेंगू,चिकनगुनियाऔरपीलाबुखारसंचारितकरतीहै।मादाएडीजसबसेअधिकदिनकेसमयकाटतीहै।

हरतीनसेपांचसालमेंहोताहैभयावह

एसएनमेडिकलकालेजकीडा.गीतूसिंहकेअनुसारडेंगूकामच्छरपर्यावरणकीवजहसेअपनेअंदरबदलावकरताहै।डेंगूकीसाइकिलहरतीसरेयापांचवेंवर्षमेंघूमतीहै।पिछलेकुछसालोंकेआंकड़ेदेखेंतोकेंद्रसरकारकीएकरिपोर्टकेअनुसार2017मेंभारतमेंडेंगूकेसबसेज्यादामरीज1,88,401सामनेआएथे,जिनमेंसे325लोगोंकीमौतहोगईथी।उसकेबादडेंगूकेमरीजोंकाआंकड़ाकाफीनीचेपहुंचगयाथा।ऐसेमें2017केबादअब2021मेंएकबारफिरडेंगूअपनेचक्रकेअनुसारअसरदिखासकताहै।

By Doyle