जोशीमठ(चमोली),जेएनएन।पर्यटनकोबढ़ावादेनेकेलिएशनिवारकोऔलीमेंस्कीइंगगेम्सकेतहत'स्नोशूइंग'प्रतियोगिताआयोजितहुई।स्नोशूइंगकायहदेशमेंपहलाआयोजनहै।इसकेलिएआयोजकसंस्थास्कीइंगएंडस्नोबोर्डस्कूलकीओरसेयूरोपसे11जोड़ीस्नोशूमंगाएगएहैं।इनशूकोपहनकरपर्यटकोंऔरस्थानीयलोगोंनेऔलीकीछहकिमीलंबीबर्फीलीढलानोंपरस्कीइंगकी।

प्रतियोगिताकाउद्घाटनएसडीएमजोशीमठअनिलकुमारचन्यालनेकिया।अपनेसंबोधनमेंउन्होंनेकहाकिस्नोशूइंगअमेरिकाऔरयूरोपमेंखेलाजानेवालालोकप्रियखेलहै।स्कीइंगएंडस्नोबोर्डस्कूलसेजुड़ेयुवाओंनेदेशमेंइसकीशुरुआतकरदूरगामीकदमउठायाहै।जिसकानिश्चितरूपसेपर्यटनऔरस्थानीयआर्थिकीकोलाभमिलेगा।

स्कीइंगएंडस्नोबोर्डस्कूलकेअध्यक्षअजयभट्टनेबतायाकिदेशमेंस्नोशूइंगकीयहपहलाआयोजनहै।अमेरिकाऔरयूरोपमेंइसकेतहतक्रॉसकंट्री,मैराथन,बर्फमेंपैदलचलनाजैसीप्रतियोगिताएंहोतीहैं।इनस्नोशूकोपहनकरबर्फमेंचलनेमेंआसानीहोतीहै।बर्फमेंपर्वतारोहणकेलिएतोयहशूकिसीवरदानसेकमनहींहैं।

यहभीपढ़ें:सीकेनायडूट्रॉफीमेंउत्तराखंडनेहरियाणापरबनाईबढ़तDehradunNews

1.40लाखमेंखरीदे11जोड़ेस्नोशू

विदेशोंमेंस्नोशूकीकीमतआठहजारसेलेकर40हजाररुपयेतकहै।इसमेंकईवैरायटीउपलब्धहैं।भट्टकेअनुसारसंस्थानेयह11जोड़ेस्नोशू1.40लाखरुपयेमेंमंगाएहैं।

यहभीपढ़ें: रणजीट्रॉफीमेंछत्तीसगढ़केहाथोंभीउत्तराखंडकीबड़ीहार

By Elliott