संवादसहयोगी,छिबरामऊ:खेतमेंबचेफसलकेअवशेषोंकोजलाकरकिसानअपनेकामकोआसानकररहाहैलेकिनखेतकीमिट्टीऔरउसकीउर्वराशक्तिकोपूरीतरहनष्टकरनेकाकामकररहाहै।वहींइसकेधुएंसेपर्यावरणप्रदूषितभीहोरहाहै।इसओरशासनसेलेकरजिलास्तरतककईबारआदेशजारीकिएजाचुकेहैंलेकिनआजतककिसीभीखेतमालिकपरकोईकार्रवाईनहींकीगई।

प्रत्येकवर्षखेतोंमेंधानवमक्काकीफसलकीजातीहै।गर्मीमेंमक्काकीफसलहोनेकेबादलोगोंनेउसकेबचेअवशेषखेतमेंजलाए।समयबीताऔरअबधानकीफसलहुई।इसकेबादभीखेतकीसफाईकरनेकेचक्करमेंमशीनसेकटाईकराईऔरबादमेंआगलगादी।इससेउठनेवालाधुआंपर्यावरणकोनुकसानपहुंचारहाहै।वहींखेतकीउर्वराशक्तिभीक्षीणहोतीजारहीहै।शासनसेनिर्देशजारीहोनेकेबादडीएमनेभीइसकेलिएआदेशजारीकिएलेकिनअबतकएकभीकार्रवाईकृषिवराजस्वविभागकीओरसेनहींकीगई।ऐसेमेंलोगोंकेहौंसलेबुलंदहैंऔरजमकरखेतोंमेंअवशेषजलाएजारहेहैं।

नष्टहोरहेफसलकोलाभपहुंचानेवालेकीट

शासनकीओरसेइसकार्यपरपूरीतरहसेप्रतिबंधलगायागयाहै।इसकीप्रमुखवजहपर्यावरणसंरक्षणहै।इसकेअलावाफसलोंकेलिएबेहदलाभकारीकीटोंकोनष्टहोनेसेबचानाभीहै।खेतकीमिट्टीकोकेचुआसहितअन्यकीटमुलायमरखतेहैं।आगमेंजलकरवहनष्टहोजातेहैं।इससेफसलकीउत्पादकताप्रभावितहोरहीहै।

इनगांवोंमेंजलाएजारहेअवशेष

नगलादिलू,कसावा,हरीनगर,प्रेमपुर,मिघौली,माधौनगर,विशुनगढ़,शंकरपुर,लालकपुर,रंधीरपुरकेअलावासौरिख,तालग्राम,खड़िनी,सकरावा,चपुन्नाआदिक्षेत्रोंमेंयहकार्यखेतस्वामीकररहेहैं।हालांकिपूछनेपरकिसानअराजकतत्वोंकीओरसेआगलगाएजानेकीबातकहकरमामलेसेपल्लाझाड़लेतेहैं।

राष्ट्रीयहरितअभिकरणकीरिपोर्टकेआधारपरअवशेषजलानापूरीतरहसेप्रतिबंधितहै।इसकेलिए2500से15हजाररुपयेतकजुर्मानेकाप्रावधानहै।लेखपालोंसेजांचकराईजाएगी।यदिक्षेत्रमेंकहीपरभीखेतोंमेंअवशेषजलेमिलेतोतत्कालकार्रवाईकरजुर्मानावसूलाजाएगा।निर्देशोंकाअनुपालनकरनासभीकीजिम्मेदारीहै।

गौरवशुक्ला-एसडीएमछिबरामऊ

By Field