संवादसहयोगी,चौखुटिया:धूपखिलनेकेसाथहीफिरसेजंगलोंमेंआगलगनीशुरूहोगईहै।यहांकईजंगलोंमेंआगधधकरहीहै।बारबारआगलगनेसेवनसंपदाकोनुकसानपहुंचरहाहै।संसाधनोंकीकमीएवंग्रामीणोंकीउदासीनताकेचलतेआगबुझानेकीदिशामेंकोईप्रयासनहोनेसेआगकीघटनाएंथमनहींपारहीहैं।इससेपूर्वक्षेत्रकेअधिकांशजंगलोंमेंआगलगचुकीहैं।इनमेंपंचायतीबनभीशामिलहैं।

विकासखंडअंतर्गतभैल्टगांववगोपालगांवसमेतचिनौनीगांवोंसेलगेवनआगकीचपेटमेंहैं।आगतेजहवाओंकेसाथआगेबढ़तीजा़रहीहै।आसपासकेअन्यजंगलोंमेंआगकीलपटेंदिखरहीहैं।इसबारवनाग्निसीजनसेपूर्वहीवनोंमेंआगलगनेकीघटनाएंशुरूहोगईहैं।अभीतकक्षेत्रमेंअधिकांशजंगलजलचुकेहैं।इनमेंआरक्षितवनोंकेसाथसाथपंचायतीबनभीशामिलहैं।बारबारलगरहीआगसेपेड़-पौधेवअन्यवनसंपदाकोभारीक्षतिपहुंचरहीहै।

बीतेदिनोंहुईबारिशकेचलतेकईबारआगबुझचुकीहै,लेकिनफिरधूपनिकलआनेकेसाथहीआगलगनीप्रारंभहोजारहीहै।हालांकिबनकर्मीआगबुझानेकेप्रयासमेंतोलगेहैं,लेकिनसमुचितसंसाधनवकार्मिकोंकीकमीसेहरस्थानपरआगपरकाबूपानासंभवनहींहै।

By Field