भीरपुर:दीपावलीपर्वकोमद्देनजररखतेहुएअबकुम्हारसमाजकेलोगोंनेलोगोंकीमागपूराकरनेकेलिएदिनवरातअपनीचाककीचालबढ़ादीहै।प्राचीनपरंपरासेचलीआरहीदीपावलीयानीदीपोकेइसपर्वपरदीपोंकेबिनाकल्पनाभीनहींकीजासकती।इसबारग्रामीणक्षेत्रोंमेंदीयेकीमांगबढ़गईहै।

बदलतेहुएआधुनिकताकेइसदौरमेंइलेक्ट्रॉनिकझालर,लाइटिंगकीचकाचौंधकेआगेपुरानीपरंपराएंलुप्तहोतीजारहीहैंलेकिनइसपरंपराकोजीवितरखनेकेलिएआजभीगावमेंकुम्हारसमाजकेलोगकड़ीमेहनतसेइसपरंपराकोपीढ़ीदरपीढ़ीसंजोएंरखेहैं।उनकीइसमेहनतकोबलदियाहैलोगोंकीजागरूकताने।इसबारकाफीसंख्यामेंलोगोंनेचाइनीजझालरोंकाबहिष्कारकरनेकामनबनालियाहै।लोगमिट्टीकेदीपकहीजलानाचाहतेहैं।इसीलिएमिट्टीकेदीयाकीमांगबढ़गईहै।

कचरीगावनिवासीशीतलाप्रसादप्रजापतिनेपूर्वजोंकीधरोहरमानकरआजभीवहमिट्टीकेबर्तनवदिएकोतैयारकरतेहैं।उन्होंनेबतायाकिभूमिहीनहोनेकेकारणउन्हेंमिट्टीकोखरीदकरबर्तनतैयारकरनापड़ताहैं।साथहीकईप्रकारकीकठिनाइयोंकासामनाकरनापड़ताहै।बर्तनकीबिक्रीनहोनेकीदशामेंउन्हेंघाटाभीउठानापड़ताहै।लेकिनइसवर्षचाइनीजउत्पादोंपरप्रतिबंधहोनेसेमिट्टीसेतैयारकिएगएबर्तनोंकीमागबढ़गईहै।माहभरपहलेसेहीशहरकेव्यापारियोंनेदियाखरीदनेकेलिएएडवासमेंबयानाकेरूपमेंपैसादेचुकेहैं।मागपूराकरनेकेलिएइसवर्षमेहनतअधिककरनीपड़रहीहै।

By Ellis