नयीदिल्ली,31मार्च(भाषा)दिल्लीकेलियेमहाधिवक्ताकीनियुक्तिकोलेकरदायरएकजनहितयाचिकापरदिल्लीउच्चन्यायालयनेअरविन्दकेजरीवालसरकारकोनोटिसजारीकियाहै।मुख्यन्यायाधीशडीएनपटेलऔरन्यायमूर्तिसीहरिशंकरकीपीठनेयाचिकाकर्ताअभिजीतमिश्राकीयाचिकापरदिल्लीसरकारकोनोटिसजारीकियाऔरउससे22मईतकजवाबमांगाहै।याचिकाकर्तानेयाचिकामेंदलीलदीहैकिदिल्लीकोविशेषदर्जादेनेवालेसंविधानकेअनुच्छेद239एएकेतहतविधानसभाकोलोकव्यवस्था,पुलिसऔरभूमिकेअलावासंविधानकीसातवींअनुसूचीकीराज्ययासमवर्तीसूचीमेंउल्लिखितकिसीभीअन्यमामलेमेंराष्ट्रीयराजधानीक्षेत्रकेलियेकानूनबनानेकाअधिकारहै।याचिकामेंकहागयाहैकिइसमेंमहाधिवक्ताकीनियुक्तिभीशामिलहोगी।खुदकोवित्तीयअर्थशास्त्रीबतानेवालेमिश्रानेयाचिकामेंकहाहैकिप्रशासनिकऔरशासकीयमामलोंमेंदिल्लीसरकारकोकानूनीसलाहदेनेकेलियेमहाधिवक्ताकापदहोनाआवश्यकहै।अधिवक्तापायलबहलऔरअमितसिंहकेमाध्यमसेदायरयाचिकामेंमहाधिवक्ताकीनियुक्तिकेलिये‘नियमऔरशर्ते’तैयारकरनेतथाइसपदकेलियेचयनप्रक्रियाशुरूकरनेकेलिएएकसमितिबनानेकाभीअनुरोधकियागयाहै।मिश्रानेयाचिकामेंकहाहैकिउनकीशिकायतकेजवाबमेंदिल्लीसरकारनेउन्हेंसूचितकियाकिमहाधिवक्ताकीनियुक्तिउसकेअधिकारक्षेत्रसेबाहरहै।इसकेबादहीयहजनहितयाचिकादायरकीगयीहै।

By Farmer