जेएनएन,कुरुक्षेत्र।कोरोनासंक्रमणकेनिराशाभरेदौरकेबाद जीवनमेंउत्सवऔरउल्लासभरनेवालादीपोत्सवयानीदीपावलीकात्योहारआहीगया।इसबारयहपर्व499वर्षकेबाददुर्लभसंयोगलेकरआयाहै।आजगुरुग्रहअपनीराशिधनुवशनिअपनीस्वराशिमकरमेंरहेंगे।इससेपूर्वयहविशेषसंयोग1521मेंबनाथा।मानाजाताहैकिऐसेसंयोगमेंपूजाकरनाविशेषफलदायीहोताहै।

कुरुक्षेत्रकेज्योतिर्विदडा.रामराजकौशिककाकहनाहैकिआजसूर्योदयचतुर्दशीतिथिपरहुआहैऔरअमावस्यातिथिदिनमेंप्रारंभहोरहीहै।ऐसेमेंछोटीवबड़ीदीपावलीआजहीमनाईजाएगी।दीपावलीपरनसिर्फलक्ष्मी-गणेशपूजनकरनाचाहिए,बल्किभगवानविष्णुकापूजनभीविशेषफलदायीमानाजाताहै।भगवानविष्णुकीपूजाअर्चनासेहीलक्ष्मीमाताप्रसन्नहोतीहैं।इसकेअलावायमराज,चित्रगुप्त,कुबेर,भैरव,हनुमानजी,कुलदेवतावपितरोंकीभीश्रद्धापूर्वकपूजाकरनीचाहिए।

बकौलडा.रामराजकौशिकव्यापारिकप्रतिष्ठानों,घरऔरनिशापूजनकेलिएअलग-अलगमुहूर्तहैं।शुभमुहूर्तस्थिरलग्नयानी वृषलग्नमेंशाम5:16से7:13बजेतकहै।इसमेंपूजनसेसभीमनोकामनाएंपूर्ण होतीहैं।लक्ष्मी-गणेशऔरकुबेरकेपूजनकेलिएशामकोस्थिरवृषलग्नमें5:16सेरात7:13बजेतककासबसेशुभमुुहूर्तहै।इसीलग्नमेंघरोंमेंगृहस्थोंऔरप्रतिष्ठानोंमेंव्यापारियोंकापूजनकरनाउत्तमरहेगा।इसकेअलावादोपहरमें12:37से2:09बजेतकस्थिरकुंभलग्नमेंभीपूजनकियाजासकेगा।देररातस्थिरसिंहलग्नमेंभीमहानिशापूजनमुहूर्तहोगा।देररात11:44से1:58बजेतकमहालक्ष्मीकापूजनकरसकतेहैं।शामकोगोधूलिबेला(सूर्यास्तसे24मिनटपहलेऔरबादतक)भीपूजनकरसकतेहैं।

पटाखोंसेबनाएंदूरी

इसबारकोरोनाकेकारणप्रदूषणफैलनेसेलोगोंकेजीवनपरविपरीतअसरपड़सकताहै।ऐसेमेंपटाखोंसेदूरीबनाएरखें।पटाखोंकेबजायदीपप्रज्जवलितकरें।

By Ellis