संवादसहयोगी,मौदहा:समग्रविकासमेंचयनितबड़ीआबादीवालेअरतरागांवमेंउच्चअधिकारियोंकेअलावाजिलेकेप्रभारीमंत्रीमनोहरलालनेगंावमेंरात्रिविश्रामकरविकासकीगंगाबहानेकेभाषणदेकरकुछसमयकेलिएगांवकोस्वर्गबनादियाथा।लेकिनयहांकिजमीनीहकीकतकुछऔरहीहै।नन्हे-मुन्नेबच्चोंकोअच्छीशिक्षादेनेकादावासरकारवविभागभलेहीकरे,लेकिनगांवकेप्राथमिकस्कूलकेसामनेपानीसेभरादलदलयुक्तमार्गबच्चोंकेआनेजानेकेलिएमुसीबतबनगयाहै।

विकासखंडक्षेत्रकेअरतरागांवसमग्रविकासकेलिएलाखोंरुपयेपानीकितरहबहायागयाहै।पूर्वमेंअधिकारियोंनेगांवमेंडेराडालरखाथा।ताकिगांवमेंरात्रिविश्रामकेलियेप्रभारीमंत्रीकोभ्रमणकराकरप्रशंसाहासिलकरलें।प्रभारीमंत्रीकेगांवआनेपरकुछसाफसुथरेरास्तेदिखाकरसमग्रविकासकीइतिश्रीकरलीगई।जबकिआजभीगांवकेनालेवनालियांकीचड़सेबजबजारहीहै।सबसेखराबहालततोनवीनप्राथमिकविद्यालयकेसामनेवालेमार्गकीहै।इसविद्यालयकीप्रधानाध्यापिकाविकलांगहैऔरस्कूलमेंनन्हे-मुन्नेबच्चेघरोंसेअपनीड्रेसपहनकरस्कूलकेलिएआतेहै।लेकिनस्कूलकेसामनेकापूरारास्तादलदलयुक्तपानीसेभराहुआहै।इससेविकलांगअध्यापिकासहितअन्यअध्यापिकाएंवबच्चेबिनाकीचड़वपानीसेगुजरेबिनास्कूलनहींपहुंचपातेहै।अक्सरयहांबच्चेफिसलकरगिरतेहै,लेकिनफिरभीग्रामप्रधानवजिम्मेदारलोगइसबड़ीसमस्याकेनिदानकेलिएकोईकार्रवाईनहींकरतेहै।प्रधानाचार्यरचना¨सहवअध्यापिकानीतिपाठकनेबतायाकिवहलोगस्वयंमुसीबतकेसाथस्कूलपहुंचतीहै।लेकिनजबस्कूलआनेवालेबच्चेकीचड़मेंगिरकरअपनेकपड़ेवबस्तेखराबकरलेतेहै।तबउन्हेंकष्टहोताऔरउनकीपढ़ाईबाधितहोतीहै।अधिकपानीआजानेपरबच्चोंकीसंख्याभीकमहोजातीहै।वहींविकासखंडअधिकारीविजयशंकरशुक्लानेकहाकिपूर्वमेंरास्ताबनाथा,लेकिनइसकीहालतखराबहोनेपरपुन:बनवानेकेलिएप्रयासकिएजाएंगे।