अमेठी:देशकोटीबीसेमुक्तकरानेकेलिएस्वास्थ्यमहकमेनेकदमबढ़ादिएहैं।नियमितउपचारकरानेवालेदोसौसेअधिकरोगीटीबीसेमुक्तहोचुकेहैं।येआकड़ेक्षेत्रकोटीबीमुक्तबनानेकासपनादेखनेवालेस्वास्थ्यविभागकेअधिकारियोंवकर्मचारियोंकेलिएसुखदहैं।इसीरफ्तारसेअगररोगियोंकोफायदामिलातोवहदिनदूरनहीं,जबइलाकाक्षयरोगमुक्तहोसकेगा।

स्वास्थ्यविभागनेदेशकोटीबीमुक्तबनानेकेलिएवर्ष2025कासमयनिर्धारितकियाहै।जनवरी2018सेटीबीमरीजोंकाउपचारकरनेकाप्रयासरंगलारहाहै।ब्लाकक्षेत्रमेंपिछलेडेढ़सालमें215मरीजटीबीरोगसेमुक्तहोचुकेहैं।हालाकिअभीभीयहादोसौदोक्षयरोगीहैं,जिनकाउपचारचलरहाहै।स्वास्थ्यमहकमेंकोउम्मीदहैकिअगलेकुछसालोंमेंक्षेत्रइसरोगसेमुक्तहोजाएगा।एमओटीसीडॉ.संतोषगुप्ताकहतेहैंकिटीबीरोगकोखत्मकरनेकेलिएरोगियोंकीतलाशकरउनकाउपचारकियाजारहाहै।पिछलेडेढ़वर्षमेंतकरीबनदोसौसेअधिकमरीजोंकाउपचारपूराहोचुकाहै।बाकीमरीजोंकानियमितउपचारकियाजारहाहै।

75क्षयरोगीआएनए

सरकारीऔरप्राइवेटचिकित्सकोंसेउपचारकरारहेटीबीरोगियोंमेंसेकुछमरीजइलाजबीचमेंहीछोड़देतेहैं।कुछरोगीउपचारहीनहींकराते।ऐसेरोगियोंकीतलाशकेलिएमहकमेंद्वाराएक्टिवकेसफाइंडिंगअभियानभीसमय-समयपरचलायाजारहाहै।इसवर्षजनवरीसेअबतक75नएक्षयरोगीसामुदायिकस्वास्थ्यकेंद्रमेंपंजीकृतकिएगएहैं।

पांचसौरुपयेहैनिश्चितपोषणभत्ता

स्वास्थ्यविभागनिश्चयपोषणयोजनाकेतहतटीबीरोगियोंकोपाचसौरुपएमहीनेप्रदानकररहाहै।स्वास्थ्यकेंद्रमेंइलाजकरारहे202मरीजोंकेबैंकखातेमेंयहरकमभेजीजारहीहै।येरुपयेटीबीरोगियोंकोपौष्टिकभोजनकरनेकेलिएदिएजातेहैं।वरिष्ठउपचारपर्यवेक्षकअरुणसिंहनेबतायाकिअधिकाशटीबीरोगीउपचारकेदौरानपौष्टिकभोजननहींकरतेहैं।इससेउनकीप्रतिरोधकक्षमताकमजोरहोजातीहै।रोगीकोप्रतिरोधकक्षमतामेंवृद्धिकेलिएपौष्टिकभोजनकरनेकीसलाहदीजातीहै।

By Dyer