जागरणसंवाददाता,ओबरा(सोनभद्र):चालूवित्तवर्षमेंजहांऔसतनपीकआवरमेंडिमांडलगभग17000मेगावाटसेज्यादारहीहैवहींइसकेवित्तवर्ष2022में24777मेगावाटतकबढ़नेकाआकलनकेन्द्रीयविद्युतप्राधिकरणद्वाराकियाजारहाहै।कुलबिजलीकीजरूरतवर्तमान1,08,853मियु.केसापेक्षवित्तवर्ष22तक1,60,903मियु.तकबढ़जाएगी।वर्तमानमेंप्रदेशकीसभीस्त्रोतोंसेकुलस्थापितक्षमता22000मेगावाटकेकरीबहै।लेकिनप्रदेशमेंबिजलीकीबढ़तीमांगकेबीचप्रदेशकोबिजलीदेनेवालीदर्जनभरसेज्यादाइकाइयोंकीबंदीकेकारणस्टेटलोडडिस्पैचसेंटरकोदिक्कतेंसामनेआरहीहैं।उत्पादननिगमकीइकाइयोंकेसाथकेन्द्रीयऔरनिजीसेक्टरकीइनइकाइयोंकीबंदीसेप्रदेशको5000मेगावाटसेज्यादाबिजलीकानुकसानहोरहाहै।तमामपरियोजनाओंकेविस्तारीकरण,पुरानीइकाइयोंकेजीर्णोद्धारसहितअन्यतरीकोंसेउत्पादनक्षमतामें11हजारमेगावाटसेज्यादावृद्धिकीयोजनापरकामचलरहाहैलेकिन,फिलहालतमामइकाइयोंकीखराबीविद्युतसंकटकाविषयबनरहीहै।5136मेगावाटबिजलीनहींमिलपारही

उत्पादननिगमसहितकेन्द्रीयऔरनिजीसेक्टरकीकुल13प्रमुखइकाइयोंकीबंदीसेप्रदेशको5136मेगावाटबिजलीनहीमिलपारहीहै।इनमेंउत्पादननिगमकेओबराकी200मेगावाटवालीतीनइकाई,अनपराकी500मेगावाटवालीदोइकाइयां,परीछाकी250मेगावाटकीइकाईएवंहरदुआगंजकी105मेगावाटकीइकाईबंदहै।इनइकाइयोंकोचालूहोनेमेंकाफीसमयलगसकताहै।इसकेअलावानिजीसेक्टरकी2664मेगावाटक्षमताकीइकाइयांकोयलेकीकमीकीवजहसेबंदहैं।कोयलेकीकमीकीवजहसेबजाजललितपुरकी660-660मेगावाटकीतीन,बारापरियोजनाकी660मेगावाटकीएकतथाबीईपीएलकी45-45मेगावाटकीदोइकाइयांबंदहैं।साथहीबारापरियोजनाकी660मेगावाटकीएकइकाईबॉयलरट्यूबलीकेजतथामेजापरियोजनाकी660मेगावाटकीएकइकाईटरबाइनकम्पनकीवजहसेलम्बेसमयकेलिएबंदचलरहीहै।गलनकेबीचबिजलीकीमांगमेंवृद्धिजारी:

गलनमेंहोरहीलगातारवृद्धिकेबीचबिजलीकीमांगमेंबढ़ोतरीजारीहै।वर्ष2019केअंतिमदिनपीकआवरकेदौरानप्रतिबंधितमांग17157मेगावाटकेकरीबरही।इसकेकारण300मेगावाटकीकटौतीकरनीपड़ी।मांगमेंहोरहीलगातारवृद्धिकोदेखतेहुएरिहंदऔरओबराजलविद्युतघरकीकुलछहइकाइयोंसे205मेगावाटउत्पादनकरायाजारहाहै।बुधवारदोपहरकोओबरातापीयपरियोजनाकाउत्पादन325मेगावाटकेकरीबरहा।इसमेंनौवींइकाईसे180मेगावाटतथा11वींइकाईसे155मेगावाटउत्पादनहोरहाथा।उधरउत्पादननिगमकीचालूइकाइयोंसेकुल2845मेगावाटएवंनिजीपरियोजनाओंसे3504मेगावाटउत्पादनहोरहाथा।