दिल्लीसरकारकेवित्तपोषित12कॉलेजोंकेप्रतिनिधियोंकेसाथमंगलवारकोमुख्यमंत्रीअरविंदकेजरीवालनेबैठककी.इसदौरानसीएमअरविंदकेजरीवालनेदिल्लीयूनिवर्सिटी(डीयू)केकॉलेजोंकेशैक्षणिकऔरगैरशैक्षणिकस्टॉफकावेतनदेनेकेलिए28.24करोड़रुपयेजारीकरनेकेआदेशदिएहैं.बैठकमेंकॉलेजोंकेगवर्निंगबॉडीकेसदस्य,कॉलेजोंकेचेयरपर्सन,कॉलेजोंकेप्रिंसिपलऔरलेखाअधिकारी(एओ)भीमौजूदथे.

बैठककेबादअरविंदकेजरीवालनेकहाकिडीयूकेकॉलेजविभिन्नमदोंमेंउपलब्धफंडकोवेतनदेनेकेलिएइस्तेमालकरसकतेहैंयानहीं,इसपरकोर्टकेआदेशानुसारहीदिल्लीसरकारकोईनिर्णयकरेगी.उन्होंनेकहाकिकिसीभीस्थितिमेंकॉलेजोंकेशैक्षणिकऔरगैरशैक्षणिकस्टॉफकावेतननहींरुकनेदेंगे.हरमुद्देकोकॉलेजोंकेसाथमिलकरसुलझाएंगे.

मुख्यमंत्रीअरविंदकेजरीवालनेकहाकिपिछलेकुछदिनोंसेखबरपढ़रहाकिकॉलेजोंकेटीचिंगस्टॉफकोवेतननहींमिलरहाहै.हमारीसरकारदिल्लीमेंशिक्षाऔरस्वास्थ्यक्षेत्रमेंसुधारकरनेकेकामकेलिएजानीजातीहै,लेकिन,सरकारकीनीयतकीगलतव्याख्याकीजारहीहैंऔरइसकीवजहसेदिल्लीसरकारऔरदिल्लीविश्वविद्यालयकेबीचगलतफहमीउत्पन्नहोरहीहै.उन्होंनेकहाकिमैंइसबैठकमेंउपस्थितसभीसदस्योंसेस्पष्टकरनाचाहताहूंकिइसमुद्देपरहमउनकेसाथखड़ेहैं.हमकर्मचारियोंकीदलीलोंऔरचिंताओंकाविरोधनहींकरतेहैं.

सीएमअरविंदकेजरीवालनेकहाकिकईलंबितमुद्देहैं,जिन्हेंसुलझानेकीजरूरतहै.हमनहींचाहतेहैंकिइनकॉलेजोंकीछविखराबहो.उन्होंनेकहाकिकॉलेजोंकीसफलताहीहमारीसफलताहै.हमशिक्षामंत्रीमनीषसिसोदियाकेकार्यालयकीतरफसेकुलपतिकोनिमंत्रणभेजेंगेताकिलंबितमुद्दोंपरउनसेबातचीतकीजासके.वहीं,बैठकमेंशामिलदिल्लीकेउपमुख्यमंत्रीनेकहाकिपिछलेपांचसालमेंकईपरियोजनाओंकेकेलिएकॉलेजोंकोधनराशिस्वीकृतकियाहै.

मनीषसिसोदियानेकहाकिहमअपनेदायरेमेंआनेवालेकॉलेजोंकोपूराफंडदेनेकेलिएतैयारहै.चाहेवेफंडकिसीभीमदकेअंदरआतेहों.उन्होंनेकहाकिवित्तपोषितकॉलेजोंकोदिल्लीसरकारपरपूराभरोसाहोनाचाहिएऔरउनकेपत्रोंऔरउनकीभावनाओंमेंभी100फीसदीयहपारदर्शिताझलकनीचाहिए.अगरआपअपनीतरफसेपारदर्शिताबरततेहैं,तोदिल्लीसरकारभीपारदर्शीतरीकेसेफंडदेनेकेलिएतैयारहै.डीयूकेकॉलेजोंकेखातेऔरबजटमेंयहसारेखर्चस्पष्टतौरपरदिखाईदेनेचाहिए.

मनीषसिसोदियानेकहाकिगवर्निंगबॉडीदिल्लीविश्वविद्यालयऔरदिल्लीसरकारकेबीचएकपुलकाकामकरतीहै,हमउन्हेंखत्मनहींकरसकते.उनकीटाइमलाइनकोजितनीजल्दीहोसके,बढ़ायाजानाचाहिए.उन्होंनेकहाकिइनकॉलेजोंकीतरफसेयूटिलाइजेशनसर्टिफिकेटजारीकरनेमेंदेरीहुईहै.इसेसमाप्तकरनेकीजरूरतहैजिससेफंडजल्दीजारीकियाजासके.

By Elliott