बगहा।हरनाटांड़प्रखंडकेथारूआदिवासीबाहुल्यइलाकेहरनाटांड़स्थितप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रमेंस्वास्थ्यविभागकीओरसेघोषितसुविधाओंकालाभरोगियोंकोनहींमिलपारहाहै।यहांकरीबचारवर्षोसेअल्ट्रासाउंडकीसुविधानहींमिलपारहीहै।सबसेअधिकपरेशानीयहांपहुंचनेवालीगरीबतबकेकीगर्भवतीमहिलाओंकोहोरहीहै।जिनकानिशुल्कअल्ट्रासाउंडयहांनहींहोपारहाहै।आलमयहहैकिगर्भवतीमहिलाएंनिजीअल्ट्रासाउंडसेंटरमेंजांचकरानेकोविवशहैं।वहींदूसरीओरपीएचसीमेंएक्सरेकीसुविधातोहै,लेकिनइसकालाभमरीजोंकोनहींमिलताहै।एक्सरेकक्षमेंआएदिनतालालटकतारहताहै।ऐसीस्थितिविगतकुछदिनोंसेबनीहुईहै।जिसकीवजहसेजांचकोआएमरीजबिनाएक्सरेकराएबैरंगवापसलौटनेकोविवशहैं।गुरुवारकोभीकुछइसीप्रकारकीस्थितिदेखीगई।यहांसुबहके11बजरहेहैं।ओपीडीमेंचिकित्सकडॉ.प्रदीपकुमारमिश्रामरीजोंकाइलाजकररहेहैं।लेकिन,ओपीडीकेबाहरकईमरीजएक्सरेकरानेकेलिएबैठकरटेक्नीशियनकाइंतजारकररहेहैं।लेकिन,उसकाकहींपतानहींहै।करीब20किमीकीदूरीतयकरचरहियानिवासीनथुनीमुंडा,भेड़ाचौरनिवासीहरिओमकुशवाहा,छत्रौलनिवासीफूलवंतीदेवीपहुंचेहैं।लेकिन,इनकाआजभीएक्सरेनहींहोपाया।इसदौरानछत्रौलकीफूलवंतीदेवीनेबतायाकिउसनेतीनदिनपहलेइलाजकरायाथा।जिसमेंचिकित्सकनेएक्सरेकीसलाहदीहै।बीतेतीनदिनोंसेलगातारआरहींहैं,किंतु,एक्सरेनहींहोपारहा।क्योंकियहांहमेशातालालटकतारहताहै।वहीं20किमीकीदूरीतयकरआनेवालेनथुनीमुंडावकमलेशकुशवाहानेबतायाकिवहसभीगरीबपरिवारसेआतेहैं।मजदूरहैंऔरआजअपनीमजदूरीबंदकरकेआएहैं।लेकिन,यहांआनेपरकोईफायदानहींहोरहा।एक्सरेटेक्नीशियनआएदिनगायबहीरहतेहैं।गर्मीचरमपर,नहींमिलरहाशुद्धपेयजल:-

सालदरसालघटतेभू-जलस्तरवबढ़तेउपभोगकेचलतेथरुहटक्षेत्रमेंपेयजलकिल्लतलोगोंकापीछानहींछोड़रही।प्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रहरनाटांड़मेंभीकुछइसीप्रकारकीसमस्याउत्पन्नहोगईहै।यहांमरीजबीतेकईदिनोंसेपीनेकेपानीकोतरसरहेहैं।पेयजलआपूर्तिनहींहोनेकेकारणस्वास्थ्यकेंद्रमेंआनेवालेमरीजतथास्वास्थ्यकर्मीपरेशानहैं।बढ़तेतापमानमेंभीपेयजलकीसुविधानहींहोनेसेपानीकेलिएमारामारीहोनेलगीहै।स्वास्थ्यकर्मियोंनेअस्पतालप्रबंधनकोभीइससमस्यासेअवगतकरवादियाहै।बावजूदइसकेस्वास्थ्यकेंद्रमेंपानीकीआपूर्तिकाप्रबंधनहींकियाजासकाहै।बतातेचलेंकिहरनाटांड़पीएचसीमेंदो-दोचापाकललगेहैं,लेकिनविगतकईदिनोंसेदोनोंखराबहैं।जिसकेकारणपीएचसीकेबगलमेंस्थितमंदिरपरिसरसेमरीजवउनकेपरिजनतथास्वास्थ्यकर्मीअपनीप्यासबुझातेहैं।

------------------------------------------------

पीएचसीमेंपर्याप्तकमरेनहीं:पीएचसीमेंदवाओंकाभंडारभारीपैमानेमेंहुआहै।यहांकफसिरपऔरएंटीरेबीजकोछोड़करबाकीसभीदवाएंउपलब्धहैं।वहींदूसरीओरभवनऔरकमरोंकाघोरअभावहै।जबकिमीटिगहॉलभीनहींहै।जिसकीवजहसेजबभीयहांएएनएमवआशाकीमीटिगहोतीहैतोउन्हेंबैठनेकेलिएभारीसमस्याओंकासामनाकरनापड़ताहै।यहांकमरोंकेअभावकीवजहसेदवाकाकार्टूनपीएचसीकेबरामदेमेंहीरखेजारहेहैं।पीएचसीमेंएक्सरेकीसुविधाउपलब्धहै।एक्सरेटेक्नीशियनबिनासूचनाकेगायबहैं।उससेजवाबतलबकियागयाहै।साथहीउनकेतीनदिनोंकामानदेयपरभीरोकलगादीगईहै।जलस्तरगिरनेसेपेयजलकोलेकरअसुविधाहोरहीहै।जल्दहीचापाकलकीमरम्मतकराईजाएगी।

डॉ.राजेशसिंहनीरज,प्रभारीचिकित्सापदाधिकारी,पीएचसीहरनाटांड़

By Elliott