नागेशसिंह।परंपरागतरूपसेअभीतकहमारेदेशमेंलोग'नौकरियों'कोहीप्राथमिकतादेतेरहेहैं।विशेषरूपसेसरकारीनौकरी(केंद्रयाराज्यसरकारकी)करनेकेप्रतिरुचिज्‍यादादेखीगईहै।लेकिनहालकेवर्षोंमेंपारिवारिकआयमेंवृद्धिकेचलतेविशेषरूपसेदेशकेमहानगरीयक्षेत्रोंमेंजोखिमऔरउद्यमिताकीदिशामेंयुवाओंकीभूखबढ़ीहै।दरअसल,उद्यमितासेहीदेशमेंसमावेशीविकाससंभवहै।इसकेमाध्यमसेहीहमछोटेशहरोंऔरअर्ध-शहरीक्षेत्रोंकोआर्थिककेंद्रोंकेरूपमेंविकसितकरसकतेहैं,जोस्थानीयरोजगारऔरसमृद्धिकासृजनकरतेहैं।इससेशहरोंकीतरफपलायनकमहोगा।सरकारनिश्चितरूपसेइसेमहसूसकररहीहैऔरकईयोजनाओंकेद्वाराउद्यमशीलताकोबढ़ावाभीदेरहीहै।इसीकानतीजाहैकिविज्ञानऔरप्रौद्योगिकीविभाग(डीएसटी)औरनीतिआयोगकेअटलइनोवेशनमिशनकेबीचभारतमेंसैकड़ोंकार्यरतटेक्नोलाजीबिजनेसइनक्यूबेटरहैं,जहांशुरुआतीचरणकेव्यवसायोंकोसफलहोनेकेलिएसभीआवश्यकसंसाधनप्रदानकिएजातेहैं।

पूंजीकीपर्याप्‍तउपलब्‍धता:उद्यमियोंकेलिएआजकेसमयमेंबड़ीमात्रामेंपूंजीउपलब्धहै-घरेलूऔरविदेशीदोनों।वेअपनेइनोवेटिवआइडियाऔरविकासकेचरणकेआधारपरएंजेलनिवेशकोंसेशुरुआतीचरणोंकेलिएफंडपासकतेहैं।येनिवेशकयुवाउद्यमियोंकोअपनीटीमबनाने,प्रोटोटाइपबनाने,बाजारमेंअपनेउत्पादोंकापरीक्षणकरनेऔरफिरबाजारमेंपहुंचनेमेंमददकरतेहैं।सवालयहहैकिआपकैसेएकसफलउद्यमीबनसकतेहैं?इसकेलिएऐसीकईचीजेंहैं,जिनकाआपकोध्यानरखनाहै:

1.जानकारबनें।अपनेसमुदाय,देश-दुनियाऔरतकनीकीपरिदृश्यमेंचलरहेऔरआनेवालेबदलावोंऔरगतिविधियोंसेअवगतरहें।

2.अपनीरुचिकेक्षेत्रमेंतकनीकीकौशलप्राप्तकरें।कौशलआपकोवहींलेजाएगा,जहांआपजानाचाहतेहैं।

3.सहयोग,संचार,महत्वपूर्णसोच,समस्यासमाधानऔरसमयप्रबंधनजैसेप्रमुखकौशलविकसितकरनेपरध्‍यानदें।

4.अपनीआंखेंखुलीरखें।हरजगहअवसरहैं।अपनेज्ञान,कौशलऔरकल्पनाकोमिलाकरआपनयेव्यवसायबनासकतेहैंजोआपकेस्थानीयसमुदाय,समाज,राष्ट्रयादुनियाकोबदलसकतेहैं।

5.केवलअरबोंडालरकेविचारोंकेबारेमेंमतसोचो।ऐसेकईअवसरहैंजोहरमहीनेलाखोंयाकरोड़ोंरुपयेउत्पन्नकरसकतेहैंऔरकुछयाकईकेलिएअवसरपैदाकरसकतेहैं।सभीविचारअनुसरणकरनेयोग्यहोताहै।एकछोटा-साविचारभीबड़ाबनसकताहै।उदाहरणकेलिएएकप्रमुखइंटरनेटमीडियाप्लेटफार्मजोशुरुआतमेंकेवलएकविश्वविद्यालयमेंछात्रोंकीजरूरतोंकोपूराकरनेकेलिएबनायागयाथा।लेकिनइसविचारमेंक्षमताथीऔरआजयहदुनियाकेसबसेबड़ेइंटरनेटमीडियाप्लेटफार्ममेंसेएकहै।

सीखकरबढ़ेंआगे:उद्यमिताअपनेस्वभावसेहीएकजोखिमभराफील्‍डहै।इसलिएअपनेउद्यमकोसफलबनानेकेलिएआपकोबहुतसीचीजेंसहीकरनीहोंगी।बाजारकीप्रतिकूलपरिस्थितियों,खराबटीमवर्कयाप्राकृतिकआपदाओंकेकारणएकअच्छाउद्यमभीमुश्किलमेंपड़सकताहै।नीतिआयोगकेतहतसंयुक्तराष्ट्रविकासकार्यक्रम(यूएनडीपी)औरअटलइनोवेशनमिशनकीएकसंयुक्तरिपोर्टकेअनुसार,कोविडमहामारीकेकारणकरीब60प्रतिशतयुवाउद्यमशीलताउपक्रमोंकोएकबड़ाझटकालगा।लेकिनइसस्थितिमेंभीजोअनुकूलनकरनेमेंसक्षमऔरफुर्तीले,वेइससेआसानीसेबाहरनिकलआएऔरउनकीकहानियांअबनईपीढ़ीकेउद्यमियोंकोप्रेरितकररहीहैं।आपकोभीअपनेसोचऔरकार्यमेंऐसाहीअनुकूलनलानाहोगा,तभीउद्यामितामेंतेजीसेआगेबढ़पाएंगे।

यहांसेसीखें:बहुतसेसंस्‍थानइनदिनोंयुवाइनोवेटर्सऔरसंभावितउद्यमियोंकोनयेव्यवसायशुरूकरनेमेंमददकररहेहैं।जरूरतकेमुताबिकउन्हेंआजीवनकौशलसिखातेहैं।इंडस्‍ट्रीएक्‍सपर्टऔरऔरकार्यक्रमोंकेमाध्यमसेउद्योगसेअवगतकरातेहैं।साथहीयेसंस्‍थानइच्छुकयुवाओंकोउद्यमशीलताकेअवसरों,इन्क्यूबेटरऔरउद्यमशीलतापारिस्थितिकीतंत्रकीअन्यबारीकियोंसेभीउन्‍हेंअवगतकरातेहैंताकिएकबेसिकनालेजकेसाथआपउद्यमितामेंआएंऔरखुदकोऊर्जावानमहसूसकरसकें।

(लेखक,एडुनेटफाउंडेशनकेएग्‍जीक्‍यूटिवडायरेक्‍टरहैं)

By Douglas