जागरणसंवाददाता,अंबालाशहर:समयसुबहदोपहर12बजे।स्थानएसपीकार्यालयअंबालाशहर।एसपीकार्यालयपरिसरमेंपार्किंगसेकुछपहलेपुलिसनेबैरिगेटलगाएहैं।यहांएकपुलिसकर्मीकुर्सीलगाकरबैठाहैताकिकोईभीवाहननिर्धारितपार्किंगसेआगेननिकलसके।एसपीकार्यालयपरिसरमेंहीस्थितमहिलाथानेकेबाहरसबसेज्यादाभीड़उमड़ीहै।महिलाओंकाएकटोलायहांगुफ्तगूकररहाहै।कुछलोगएसपीकार्यालयसेनिराशहोकरलौटरहेहैंक्योंकिएसपीमैडमआजसीटपरनहींहैं।फरियादोंकोबतायागयाहैकिमैडमडीसीकेसाथमी¨टगमेंहैं।इसकेअलावाइससमयएएसपीभीनहींहैं।इसीलिएज्यादातरलोगकंप्लेंटब्रांचमेंअपनीशिकायतदेकरअधिकारियोंसेबिनामिलेलौटनेकोमजबूरहैं।

कोईअपनेबेटेकापक्षरखनेकेलिएआईहैतोकोईअपनीबेटीकेपक्षमेंपहुंचीहैं।यहांआनेवालेज्यादातरमामलेपति-पत्नीऔरसासकीप्रताड़नाकेहैं।वहींमुलानाहलकेकाएकऐसाकेसभीआयाहैजिसमेंपत्नीनेअपनेपतिसेकहाहैकियदिवहअपने-माता-पिताकेसाथरहेगातोवहउसकेसाथनहींरहेगी।इसीलिएयहविवादमहिलाथानेमेंपहुंचाहै।हालांकिपत्नीनेपतिकेखिलाफशिकायतदेकरथानेमेंक्याकहाहैयहपतिपक्षकेसाथपहुंचेलोगोंकोभीनहींपता।जांचकर्तासेशिकायतकीकापीयहपक्षमांगरहाहैलेकिनजांचअधिकारीनेकापीदेनेसेइंकारकरदियाहै।इसपक्षकीओरसेएकमहिलावकीलकीदखलकेबावजूदकापीदोबजेतकइसपक्षकेलोगोंकोनहींदीगई।हालांकिमामलेकोतूलपकड़तादेखजांचअधिकारीनेदोदिनकेभीतरकापीउपलब्धकरानेकीबातकहदीहै।दोबजेचुकेहैंअभीभीकार्यालयमेंदोनोंबड़ेअधिकारीनहींपहुंचसके।

दुष्कर्मकीशिकायतदीतोशादीकोहुआराजी

वहींएकऐसीबेटीकेपिताभीआएहैंजिसकीबेटीसेएकयुवकनेदुष्कर्मकियाहै।शिकायतथानेतकपहुंचीतोआरोपितशादीकोतैयारहोगया।लड़कीनेभीमाता-पिताकेखिलाफजाकरआरोपितसेशादीकरली।लेकिनअबउसीकेपिताएसपीकार्यालयमेंअपनीफरियादलेकरआएहैं।पिताकेआरोपहैंकिउसकीबेटीकेसाथआरोपितअबहररोजमारपीटकररहाहै।

बहूकीशिकायतलेकरआएसास-ससुर

एकसास-ससुरअपनीबहूसेइतनेतंगहैंकिउसकीप्रताड़नाकीशिकायतलेकरअपनेवकीलकेसाथथानेपहुंचे।सुबहसाढ़े11बजेसेदोपहरदोबजेतकदोनोंबुजुर्गएसपीमैडमकेइंतजारकार्यालयपरिसरकेपार्कमेंबैठकरकरचुकेहैंलेकिनमैडमसेमुलाकातनहींहोनेकेकारणअबकंप्लेंटब्रांचमेंशिकायतदेकरलौटनेकीतैयारीमेंहैं।

मोबाइलकीशिकायतलेकरपहुंचा

मेरानवंबरमाहमेंमोबाइलगिरगयाथा।उसकीसाइबरसेलमेंतोशिकायतदेदीहैलेकिनकुछपतानहींचलरहा।किश्तोंमें15हजाररुपयेकामोबाइललियाथा।अभीतोपूरीकिश्तभीनहींउतरी।साइबरसेलमेंशिकायतकेबादकुछनहींहुआ।इसीलिएएसपीकार्यालयमेंशिकायतदेनेआयाहूं।

रोमी,नाहनहाउस।

कुछलोगोंनेजमीनहड़पलिया

मैंरिटायर्डसूबेदारमेजरजगदीशकुमारसैनीकाबेटाहूं।गांवकीफिरनीकोसीमेंटकीटाइलोंसेपक्काबनवायाजारहाहै।मगरपूर्वसरपंचनेपरिवारसहितडंडेकेबलपरएसडीएमनारायणगढ़केआदेशोंकीउल्लंघनाकरतेहुए30दिसंबरकोरास्तेकेबीचदोट्रालियांमिट्टीकीडलवाकरफिरनीकेबीच6फुटऊंचीऔर11फुटलंबीदीवारबनवादी।इसकेअलावाकेवलफिरनीनिर्माणकार्यरोकदियाबल्कि10गांवकेलोगोंकारास्ताभीबंदकरदियाहै।इससेहमारेमकानऔरशिवाजीमंदिरकापानीबंदहोचुकाहै।मेरेपिताजबआपरेशनविजयमेंपाकबार्डरपरथेतोभीउनकीगैरमौजूदगीमेंइन्होंनेचाहरदीवारीतोड़करहमारीकुछजमीनवगांवकीफिरनीकीजमीनकोहड़पलियाथा।इसमेंगांवकेपटवारीवअन्यलोगोंकीमिलीभगतहै।

गोपालसैनी,घडौली।